उफनती नर्मदा नदी में लोगों ने 11 किलोमीटर तैरकर निकाली 'तिरंगा यात्रा'
Jabalpur News in Hindi

उफनती नर्मदा नदी में लोगों ने 11 किलोमीटर तैरकर निकाली 'तिरंगा यात्रा'
उफनती नर्मदा नदी में लोगों ने 11 किलोमीटर तैरकर निकाली 'तिरंगा यात्रा'

अखंड भारत की स्थापना के लिए कई देशभक्त भारत का तिंरगा हाथे में थामे गहरी उफनती नर्मदा नदी में उतर गए और तैरते हुए करीब 11 किलोमीटर की तिरंगा यात्रा निकाली.

  • Share this:
मध्य प्रदेश के जबलपुर में अखंड भारत की स्थापना के लिए कई देशभक्त भारत का तिंरगा हाथे में थामे गहरी उफनती नर्मदा नदी में उतर गए और तैरते हुए करीब 11 किलोमीटर की तिरंगा यात्रा निकाली.

जिलहरी घाट से तिलवारा घाट तक निकाली तिरंगा यात्रा

स्वतंत्रता दिवस से ठीक एक दिन पहले निकलने वाली अखंड भारत यात्रा में इस बार भी सैकड़ों की संख्या में देशभक्त शामिल हुए. जिलहरी घाट से तिलवारा घाट तक सभी तैराक हाथों में झंडा थामे आगे बढ़े और बिना रुके तिलवारा घाट तक पहुंचे, जहां यात्रा का समापन हो गया.



11 वर्षों से हो रहा आयोजन



बता दें कि पिछले 11 वर्षों से हर साल स्वतंत्रता दिवस के एक दिन पहले यह विशेष आयोजन होता आ रहा है, जो देश में सबसे अनूठी तिरंगा यात्रा है. अखंड भारत तिरंगा यात्रा में हर उम्र और हर वर्ग के लोग शामिल होते हैं. इसमें महिलाएं विशेष तौर पर सालभर इस दिन का इंतजार करती हैं.



इस यात्रा में शामिल होने वाले सभी लोग शहर के आम नागरिक हैं, लेकिन इसके लिए वे हर दिन नर्मदा नदी में पहुंचकर तैराकी का अभ्यास करते हैं. यही वजह है कि आज तक इनमें से किसी को भी नर्मदा में इतनी लंबी दूरी तक तैरने में कोई परेशानी नहीं हुई.

POK को भी भारत में शामिल कर अखंड भारत की तस्वीर बनाई जाए

इस साल कश्मीर से अनुच्छेद 370 और 35 (ए) हटने के बाद सभी तैराक बेहद जोश में थे. साथ ही केंद्र सरकार को इसके लिए धन्यवाद भी दिया है. तैराकों का कहना है कि पीओके को भी भारत में शामिल कर एक बार फिर अखंड भारत की तस्वीर बनाई जानी चाहिए.

ये भी पढ़ें:- स्कूली छात्राओं ने सैनिकों के लिए तैयार की राखियां...

ये भी पढ़ें:- इस आरक्षक को 10 साल से DGP भी ठोक कर रहे हैं सलाम
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading