होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /Jabalpur News: जबलपुर के ‘संस्कारधानी’ में छुपा है बड़ा रहस्य, पढ़िए भगवान श्रीराम से जुड़ी कहानी

Jabalpur News: जबलपुर के ‘संस्कारधानी’ में छुपा है बड़ा रहस्य, पढ़िए भगवान श्रीराम से जुड़ी कहानी

Jabalpur News: इसके पीछे की प्रमुख वजह यह है की यहां तक पहुंचने का मार्ग जबलपुर के एक छोटे से गांव सिवनी के भीतर से रास ...अधिक पढ़ें

रिपोर्ट- अभिषेक त्रिपाठी

जबलपुर. मध्यप्रदेश का जबलपुर शहर पता नहीं कितने ही खूबसूरत राज अपने में समेटे बैठा है. शहर से महज 20-22 किमी दूर स्थित राम रमा घाट भी इन्हीं में से एक है. हालांकि आपने शायद ही इस घाट का नाम पहले सुना होगा और क्यों ही सुना होगा क्योंकि नाम तो भेड़ाघाट या ग्वारीघाट और बहुत हुआ तो तिलवारा घाट का ही प्रसिद्ध है.

आज हम आपको बताएंगे इस घाट के बारे में जहां सारी गलियां सारे रास्ते खत्म हो जाते हैं और शहरी शोर शराबाकोसों दूर पीछे छूट जाता है. और आखिर में एक गांव सिवनी आता है उसी गांव के अंदर छुपा है सुंदरता की खदान राम रमा घाट और यहां का दृश्य देखने के बाद आप भी इस घाट की खूबसूरती के कायल हो जायेंगे. भले ही इसका नाम उतना प्रसिद्ध नहीं हो लेकिन खूबसूरती में किसी से कम नहीं है. मान्यता है कि जब भगवान श्री राम, पत्नी सीता के साथ वनवास के लिए जा रहे थे, तब यहां कुछ समय रुके थे, तभी से इसे राम रमा घाट कहा जाता है.

राम रमा घाट पहुंचने का रास्ता
राम रमा घाट शहरी केंद्र से महज 20 से 22 किमी की दूरी पर स्थित है और यहां जाने के लिए आप अपने वाहन से या ऑटो रिक्शा बुक करके भी जा सकते हैं, यह तिलवारा घाट से तकरीबन 7 किमी की दूरी पर स्थित है.

कैसे नाम राम रमा घाट नाम
जानकारों ने बताया की राम रमा घाट का नाम भगवान श्री राम के नाम के कारण पड़ा क्योंकि 14 वर्षों के वनवास के दौरान ही भगवान मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम यहां से गुजरते समय नर्मदा के इसी तट पर रुके थे. जिसके बाद से ही इसका नाम राम रमा घाट पड़ गया था.

लोगों की पहुंच से दूर
इसके पीछे की प्रमुख वजह यह है की यहां तक पहुंचने का मार्ग जबलपुर के एक छोटे से गांव सिवनी के भीतर से रास्ता जाता है. और राम रमा घाट जाने के लिए एकदम छोटे छोटे रास्ते हैं जो की इसकी पहुंच को कम करते हैं. हालांकि इसकी खूबसूरती तो अपनी ओर मोह लेती है ऐसे में जबलपुर प्रशासन को इस पर ध्यान देने की जरूरत है.

Tags: Jabalpur news, Lord rama, Madhya pradesh news, Mp news, Ramayan

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें