शिवराज सरकार बंद नहीं करेगी कमलनाथ सरकार की इंदिरा गृह ज्योति योजना

प्रद्युम्न सिंह ज़्यादातर सवालों के जवाब टाल गए.

प्रद्युम्न सिंह तोमर ने कहा-भाजपा (BJP) शासन में अगर बिजली कंपनियों को घाटा हुआ तो 15 महिनों की सरकार में कमलनाथ (Kamalnath) आखिर इस घाटे की भरपाई क्यों नहीं कर पाए.

  • Share this:
जबलपुर. प्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर बैतूल (Betul) के बाद अब जबलपुर (Jabalpur) दौरे पर हैं. यहां पहुंचते साथ ही वो एक्शन में आ गए. देर रात वो कॉल सेंटर का हाल देखने पहुंच गए और सुबह होते ही पावर ट्रांसमिशन कंपनी की अलग-अलग इकाइयों का दौरा किया. तोमर एक्शन में तो दिखे लेकिन ज़्यादातर सवालों के जवाब टाल गए.

इस दौरान मीडिया से बातचीत करते हुए मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने कहा कि वे ऊर्जा विभाग के हर क्षेत्र की समीक्षा कर रहे हैं. विद्युत इकाइयों के दौरे की बात हो या फिर समस्याओं की हर मुद्दे पर वे गौर करते हुए आगामी प्लानिंग पर जोर दे रहे हैं. प्रदेश में महंगी होने जा रही बिजली के सवाल पर मंत्री तोमर ने कहा वह इस सिलसिले में सीएम से चर्चा के बाद ही बयान देंगे.उन्होंने कांग्रेस शासनकाल में उजागर हुए सौभाग्य योजना के घोटाले में जानकारी लेकर कार्रवाई करने की बात कही है.



कमलनाथ से सवाल
बिजली कंपनियों को लगातार हो रहे घाटे से उबरने के लिए आखिर क्या एक्शन प्लान है इस पर भी उन्होंने समीक्षा के बाद ही कुछ कहने की बात कही. तोमर ने इस मुद्दे पर कमलनाथ सरकार पर निशाना साधा. उनका कहना है भाजपा शासन में अगर कंपनियों को घाटा हुआ तो 15 महिनों की सरकार में कमलनाथ आखिर इस घाटे की भरपाई क्यों नहीं कर पाए.

बंद नहीं होगी इंदिरा गृह ज्योति योजना
नाला-नाली और बाथरूम सफाई के लिए चर्चा में रहने वाले मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर से जब उनके इस रवैए पर कांग्रेस की नाराजगी पर सवाल किया तो उन्होंने सधा का जवाब दिया। उनका कहना था कि जब कोई व्यक्ति अच्छा काम नहीं कर सकता तो उसे दूसरे के काम में आपत्ति ही होती है. गरीबों को सस्ती बिजली देने के लिए कांग्रेस शासन काल में शुरू हुई इंदिरा गृह ज्योति योजना बंद करने के सवाल पर मंत्री प्रद्युम्न तोमर ने कहा कि वह किसी भी जनहितैषी योजना को बंद नहीं करेंगे.

ये सवाल भी टाल गए
जब मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर से यह सवाल किया गया कि प्रदेश में सबसे महंगी बिजली मिलती है जबकि उत्पादन अच्छा है तो इस बात पर भी वो जवाब देने से कतराते दिखे. इस मुद्दे पर भी उन्होंने समीक्षा के बाद ही जवाब देने की बात कही.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.