लाइव टीवी

पशु चिकित्सकों ने कमलनाथ सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा, ये है वजह

Pavan Patel | News18 Madhya Pradesh
Updated: September 15, 2019, 5:24 PM IST
पशु चिकित्सकों ने कमलनाथ सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा, ये है वजह
छात्रों ने किया निजी पशु चिकित्सा कॉलेज खोलने का विरोध.

नानाजी देशमुख वेटरनरी साइंस विश्वविद्यालय (Nanaji Deshmukh Veterinary Science University) के छात्रों ने कमलनाथ सरकार ( Kamal Nath Government) के खिलाफ तीन मांगों को लेकर मोर्चा खोल दिया है.

  • Share this:
जबलपुर. जबलपुर के नानाजी देशमुख वेटरनरी साइंस विश्वविद्यालय (Nanaji Deshmukh Veterinary Science University) के छात्रों ने मध्य प्रदेश सरकार (Government of Madhya Pradesh) के खिलाफ एक बार फिर मोर्चा खोल दिया है. पशु चिकित्सकों के रिक्त पदों में भर्ती सहित तीन सूत्रीय मांगों को लेकर विरोध कर रहे वेटरनरी विश्वविद्यालय के छात्र अनिश्चित कालीन हड़ताल पर चले गए हैं. विरोध जता रहे वेटनरी छात्रो की मांग है कि राज्य सरकार कृषि आयोग (Agricultural commission) की अनुशंसा के मुताबिक प्रदेश में सात हजार वेटनरी डॉक्‍टर्स की जरूरत है. जबकि इस वक्‍त प्रदेश में पशु चिकित्सकों के पदों की संख्या 1671 है, जिसे बढ़ाकर सात हजार किया जाए. इसके साथ ही बीते पांच सालों से पशु चिकित्सकों की रिक्त पदों पर भर्तियां नहीं हुई हैं. ऐसे में हर साल खाली पड़े पदों के अनुसार भर्ती प्रक्रिया अपनाई जाए, ताकि ज्यादा वेटनरी चिकित्सकों को नौकरी मिल सके.

पशु पालन और कृषि प्रधान राज्य है मध्‍य प्रदेश
मध्य प्रदेश पशु पालन और कृषि प्रधान राज्य है, जिसकी लगभग 73 फीसदी आबादी इस पर आधारित है. प्रदेश में वर्तमान में 4 करोड़ पशु और 1127 पशु चिकित्सालय हैं. जहां पशु चिकित्सकों की कमी है, तो वर्तमान में 1200 पशु चिकित्सक बेरोजगार घूम रहे हैं. बावजूद इसके प्रदेश सरकार निजी वेटनरी कॉलेज खोलने की तैयारी कर रही है. छात्रों का कहना है कि एक तरफ पशु चिकित्सकों को नौकरी नहीं मिल रही, तो दूसरी तरफ निजी कॉलेज खोलकर छात्रों को पशु चिकित्सक बनाने की कोशिश की जा रही है. इस प्रस्ताव को निरस्त किया जाना चाहिए.

विरोध करने वालों ने कही ये बात

मनोज पटेल (पशु चिकित्सक) ने कहा कि निजी वेटरनरी कॉलेज खुलने से पढ़ाई के स्तर में गिरावट आने के साथ बेरोजगारी बढ़ेगी. इसके साथ ही छात्रों ने अपना मानदेय भी बढ़ाने की मांग की है. हड़ताल का रुख अखतयार कर चुके वेटनरी छात्रो ने चेतावनी दी है कि अगर जल्द ही उनकी मांगें नहीं मानी जाती है तो वह पूरे प्रदेश में उग्र आंदोलन करेंगे.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जबलपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 15, 2019, 5:24 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर