Home /News /madhya-pradesh /

the heroic story of rani durgavati will be included in the syllabus of mp mpsg

एमपी में पाठ्यक्रम में शामिल की जाएगी रानी दुर्गावती की वीर गाथा, CM ने किया ऐलान

Jabalpur. आज गौंड रानी दुर्गावती का बलिदान दिवस है. जबलपुर में कार्यक्रम में सीएम शिवराज सिंह चौहान शामिल हुए.

Jabalpur. आज गौंड रानी दुर्गावती का बलिदान दिवस है. जबलपुर में कार्यक्रम में सीएम शिवराज सिंह चौहान शामिल हुए.

Rani Durgawati Balidan Diwas : रानी दुर्गावती का आज बलिदान दिवस है. गोंडवाना साम्राज्य की रानी दुर्गावती के बलिदान दिवस को गौरव दिवस के रूप में मनाया गया. इस मौके पर रानी दुर्गावती के समाधि स्थल पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने श्रद्धांजलि अर्पित की. यहां एक गरिमामय कार्यक्रम का आयोजन किया गया. इस मौके पर कई आदिवासी संगठन भी समाधि स्थल पहुंचे और रानी दुर्गावती के बलिदान को नमन किया. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा रानी दुर्गावती का बलिदान आज की युवा पीढ़ी को प्रेरणा देने वाला है. रानी दुर्गावती ने कभी मुगलों के आगे सिर नहीं झुकाया और हंसते-हंसते अपना बलिदान दे दिया. मुख्यमंत्री ने कहा रानी दुर्गावती न केवल एक कुशल शासक थी बल्कि उनके द्वारा निर्मित कराए गए जल स्रोत अद्भुत इंजीनियरिंग का उदाहरण हैं.

अधिक पढ़ें ...

जबलपुर. मध्य प्रदेश के छात्र छात्राएं अब वीरांगना रानी दुर्गावती की वीर गाथाएं पढ़ेंगे. उनका कहानी को पाठ्यक्रम में शामिल किया जाएगा. सीएम शिवराज सिंह चौहान ने जबलपुर में ये ऐलान किया. वो बलिदान दिवस के मौक पर यहां कार्यक्रम में शामिल होने आए थे.

अब जल्द ही मध्य प्रदेश के छात्र छात्राओं को वीरांगना रानी दुर्गावती की वीर गाथाओं को पढ़ने का मौका मिलेगा. रानी दुर्गावती के बलिदान दिवस के मौके पर जबलपुर पहुंचे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ऐलान किया है कि रानी दुर्गावती समेत तमाम आदिवासी नायकों की शौर्य गाथा पाठ्यक्रम में शामिल की जाएंगी.

आज वीरांगना का 359 वां बलिदान दिवस
रानी दुर्गावती का आज बलिदान दिवस है. गोंडवाना साम्राज्य की रानी दुर्गावती के बलिदान दिवस को गौरव दिवस के रूप में मनाया गया. इस मौके पर रानी दुर्गावती के समाधि स्थल पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने श्रद्धांजलि अर्पित की. यहां एक गरिमामय कार्यक्रम का आयोजन किया गया. इस मौके पर कई आदिवासी संगठन भी समाधि स्थल पहुंचे और रानी दुर्गावती के बलिदान को नमन किया.

ये भी पढ़ें-एमपी पंचायत चुनाव का पहला चरण कल, 1 करोड़ 49 लाख 23 हजार मतदाता चुनेंगे पंच-सरपंच 

रानी के बलिदान को नमन
इस मौके पर बलिदान स्थल पर आयोजित की गई एक चित्र प्रदर्शनी का भी मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अवलोकन किया. मीडिया से बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा रानी दुर्गावती का बलिदान आज की युवा पीढ़ी को प्रेरणा देने वाला है. रानी दुर्गावती ने कभी मुगलों के आगे सिर नहीं झुकाया और हंसते-हंसते अपना बलिदान दे दिया. मुख्यमंत्री ने कहा रानी दुर्गावती न केवल एक कुशल शासक थी बल्कि उनके द्वारा निर्मित कराए गए जल स्रोत अद्भुत इंजीनियरिंग का उदाहरण हैं. रानी दुर्गावती ने अपने कार्यकाल में जबलपुर में जल संरक्षण का अद्भुत नमूना पेश किया था. हम ऐसी रणनीति से प्रेरणा लेते हैं कि कैसे स्वाभिमान से जीना है और देश का विकास करना है.

रानी की वीर गाथा
इस मौके पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ऐलान किया कि रानी दुर्गावती की वीर गाथाओं का छात्र छात्रा भी अवलोकन पाठ्यक्रम के जरिए कर सकेंगे. इस मौके पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने महाराष्ट्र की राजनीति पर भी तंज कसते हुए कहा की महाराष्ट्र पर क्या बोलना है कमलनाथ भी गए तो काहे के लिए गए.

Tags: Jabalpur news, Madhya pradesh news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर