VIRAL AUDIO: ADG को कबाड़ी ने दी धमकी- मेरी गाड़ी छोड़ दो वरना...

इस मामले में एडीजी जी जनार्दन ने मीडिया में कुछ भी कहने से मना कर दिया.
इस मामले में एडीजी जी जनार्दन ने मीडिया में कुछ भी कहने से मना कर दिया.

जुलाई (July) में एक कबाड़ी की गाड़ी को उमरिया (Umaria) जिले के नरोजाबाद थाना इलाके में पकड़ा गया था. जांच के दौरान दस्तावेज सही पाए गए थे. इसलिए बाद में उसे छोड़ दिया गया था.

  • Share this:
जबलपुर. शहडोल में इन दिनों लगातार एक के बाद एक ऑडियो वायरल (Viral Audio) हो रहे हैं. जिले में प्रशानिक अधिकारियों का ऑडियो वायरल होने का एक के बाद एक कोई न कोई मामला सामने आ रहा है. अब यहां एक कबाड़ी ने अपनी गाड़ी छुड़ाने के लिए एडीजी (ADG) को धमकी दे दी है.

शहडोल में हाल ही में वन विभाग के रेंजर और रेत करोबारी के बीच पैसों के लेनदेन का ऑडियो वायर हुआ था. इसके बाद आरटीओ उड़नदस्ता प्रभारी और बस ट्रक मालिक के बीच पैसों की मांग का ऑडियो सामने आया था. इनकी चर्चा अभी थमी भी नहीं थी कि अब शहडोल जोन के एडीजी और कबाड़ी के बीच हुई बातचीत का एक ऑडियो सोशल मीडिया में जमकर वायरल हो रहा. इसमें जबलपुर का एक कबाड़ी एडीजी जी. जनार्दन को नौकरी से हटवा देने की बार-बार धमकी देते हुए सुनाई पड़ रहा. इतना ही नहीं तथाकथित कबाड़ी गालियों को उपयोग करते हुए एडीजी पर कई गंभीर आरोप लगा रहा है. हालांकि, न्यूज18 इस वीडियो की पुष्टि नहीं कर रहा है.

गाड़ी के लिए धमकी
शहडोल जोन के अतिरिक्ति पुलिस महानिदेशक एवं पुलिस महानिरीक्षक जी जनार्दन और जबलुपर के एक कबाड़ी के बीच यह बातचीत मोबाइल फोन पर हुई. इस वायरल ऑडियो में कबाड़ी एडीजी से अपनी कबाड़ की गाड़ी पकड़वाने पर एतराज जता रहा है. फिर वरिष्ठ पुलिस अधिकारी वी मधु कुमार जैसा हाल कर देने की धमकी दे रहा है. पैसों के लेनदेन के ऑडियो-वीडियो का जिक्र करते हुए कबाड़ी आगे कह रहा है, गाड़ी छुड़वाइए नहीं तो आपका नुकसान हो जाएगा. कबाड़ी सोशल मीडिया में पुराने ऑडियो वीडियो वायरल करने और अधिकारियों से शिकायत करने की धमकी दे रहा है. कबाड़ी यहीं नहीं रुका, वह गाली देते हुए कह रहा है कि किसी अनीश नाम के आदमी ने कबाड़ की गाड़ी पकड़ी है. फिर कहता है- मेरी गाड़ी नहीं छूटी तो मैं ऊपर तक आपकी शिकायत करवाऊंगा.





उमरिया में पकड़ी गयी थी एक गाड़ी
इस मामले में एडीजी जी जनार्दन ने मीडिया में कुछ भी कहने से मना कर दिया. जानकारी के मुताबिक जुलाई माह में एक कबाड़ी की गाड़ी को उमरिया जिले के नरोजाबाद थाना इलाके में पकड़ा गया था. जांच के दौरान दस्तावेज सही पाए गए गए थे. इसलिए बाद में उसे छोड़ दिया गया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज