यहां दूल्हे को गधे पर बिठाकर निकाली बारात.. ताकि बारिश हो

मध्यप्रदेश के झाबुआ जिले में बारिश की लंबी खेंच से परेशान ग्रामीणों ने दूल्हे को गधे पर उल्टा बैठाकर बारात निकाली गई.

Virendra Bisht | News18 Madhya Pradesh
Updated: July 24, 2019, 11:50 AM IST
Virendra Bisht | News18 Madhya Pradesh
Updated: July 24, 2019, 11:50 AM IST
मध्यप्रदेश के झाबुआ में बारिश की लंबी खेंच से परेशान ग्रामीणों ने दूल्हे को गधे पर उल्टा बैठाकर बारात निकाली गई. क्षेत्र में बारिश की कमी के चलते फसलों के सूखने का खतरा बना हुआ है, इसलिए इंद्र देवता को मनाने के लिए गांव में टोनों-टोटकों का दौर शुरू हो चुका है.

गधे पर उल्टा बैठाकर निकाली बारात

दरअसल मामला झाबुआ जिले के रायपुरिया का है जहां बारिश की कमी के कारण लोग तरह-तरह के टोटकों कर रहे है. इसी क्रम में गांव के लोगों ने दूल्हे को गधे पर उल्टा बैठाकर बारात निकाली. बारिश की खेंच से परेशान लोग इंद्र देवता को मनाने के लिए ये टोटका कर रहे हैं.

बारिश की कमी के कारण किया टोटका

बता दें कि रायपुरिया और उसके आस-पास के क्षेत्र में 5 जुलाई को बारिश हुई थी. किसानों ने बोवनी कर दी, लेकिन अब बारिश की खेंच से सोयाबीन, मक्का और कपास की फसलों पर सूखने का डर है. क्षेत्र में अगर जल्द बारिश नहीं हुई, तो किसान की सारी मेहनत पर पानी फिर जाएगा. बारिश के लिए ये टोटका किया जा रहा है, ताकि इंद्र देवता प्रसन्न हो और अच्छी बारिश हो.

गधे पर धूम-धाम से निकाली बारात

बारिश के लिए गांव के लोगों ने गधे पर निकाली दूल्हे की बारात
बारिश के लिए गांव के लोगों ने गधे पर निकाली दूल्हे की बारात

Loading...

गांव में दूल्हे को तैयार कर उसे गधे पर उल्टा बैठकार नगर के सारे मंदिरों पर ले जाया जाता है. महिलाएं लोकगीत गाती हैं. ढोल की थाप पर नाचते-गाते गधे पर उल्टे बैठे दूल्हे की बारात पूरे नगर में निकाली जाती है. मंदिर के अलावा नगर के सभी श्मसान पर भी ये बारात पहुंचती है. दूल्हे समेत सभी बाराती इंद्रदेवता से गुहार लगाते हैं.

फसलों के बर्बाद होने की लोगों का है डर

ढोल की थाप पर नाचते-गाते लोगों ने निकाली बारात
ढोल की थाप पर नाचते-गाते लोगों ने निकाली बारात


गांव के लोगों के मुताबिक जल्द बारिश नहीं हुई तो जिले में सूखे के हालत बन जाएंगे और जन और मवेशी दोनों के जीवन पर खतरा हो सकता है. वहीं ग्रामीणों को उम्मीद है कि उनका ये टोटका रंग लाएगा और क्षेत्र में जल्द बारिश होगी. गांव के लोगों का कहना है कि बारिश की कमीं से फसलें बर्बाद हो सकती हैं. फिलहाल लोग इंद्र देवता को मनाने के लिए टोटकों का इस्तेमाल कर रहे हैं.

यह भी देखें- PHOTOS : मेंढ़क की बारात निकली, झूमकर नाचे बाराती
First published: July 24, 2019, 11:39 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...