कोरोना से मिलेगी जीत: MP में इस जगह बिना मास्क के नहीं मिलेगा सामान, व्यापारी लगा रहे पोस्टर

झाबुआ के दुकानदार ग्राहकों को मास्क लगाने के लिए प्रेरित करेंगे. (प्रतिकात्मक तस्वीर)

झाबुआ के दुकानदार ग्राहकों को मास्क लगाने के लिए प्रेरित करेंगे. (प्रतिकात्मक तस्वीर)

No mask no sale: Jhabua businessmen. झाबुआ के व्यापारियों का अनोखा फैसला. ग्राहक के मुंह पर मास्क नहीं, तो उसे सामान भी नहीं. इसके लिए तीन हजार पोस्टर्स शहर में लगाए जाएंगे.

  • Share this:

झाबुआ. कोरोना संक्रमण की लगातार बढ़ती रफ्तार के मद्देनजर झाबुआ के व्यापारी संघ ने बड़ा फैसला किया है. झाबुआ में अब आपको बिना मास्क के दुकानों से सामान नहीं मिलेगा. व्यापारी संघ ने यहां मास्क नहीं तो सामान नहीं अभियान चलाया है.

सकल व्यापारी संघ के अध्यक्ष नीरज सिंह राठौर ने बताया कि इस अभियान के तहत शहर  की दुकानों पर पोस्टर चिपकाए जा रहे हैं. इन पोस्टरों से दुकानदारों को मास्क पहनने, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए प्रेरित किया जा रहा है. वहीं ग्राहकों से भी मास्क पहनने की अपील की जा रही है. दुकानदारों से कहा जा रहा है कि अगर कोई ग्राहक बिना मास्क के दुकान पर आए तो उसे सामान न दें. बता दें, व्यापारी संघ शहर भर में 3000 हजार दुकानों पर पोस्टर चिपकाकर लोगों से ये अपील करेगा.

मध्य प्रदेश की ये है वास्तविक स्थिति

मध्य प्रदेश (MP) में कोरोना (Corona) दिन पर दिन बेकाबू होता नजर आ रहा है. कोरोना संक्रमण के मामले में एमपी देश में सातवें स्थान पर पहुंच गया है. 7 दिन में इंदौर का औसत पॉजिटिविटी रेट 15 जबकि भोपाल का 19 पर पहुंच गया है. हालात अब सबको डरा रहे हैं. सरकार बार-बार लोगों से जागरुक रहने की अपील कर रही है और अब वो किल कोरोना-II अभियान शुरू करेगी. इस बीच कोरोना संक्रमण का पॉजिटिविटी रेट जबलपुर में 11, उज्जैन में 9, खरगोन और रतलाम में 15, बैतूल में 13, बड़वानी में 16 और छिंदवाड़ा में 7 फ़ीसदी हो गया है.

Youtube Video

इंदौर में 788 और भोपाल में 549 नये केस

इंदौर में 788 नये प्रकरण आए हैं जबकि भोपाल में 549, जबलपुर में 286, ग्वालियर में 146, उज्जैन में 98, रतलाम में 85, खरगोन में 75, बड़वानी में 73, कटनी में 65, छिंदवाड़ा में 62, बैतूल और नरसिंहपुर में 61, सिवनी में 56 और शाजापुर में कोरोना के 51 नये मरीज मिले हैं. प्रदेश के 23 जिलों में कोरोना के नये पेशेंट्स की संख्या 50 से 20 के बीच में है और 15 जिलों में यह संख्या 20 से नीचे है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज