होमवर्क नहीं करने पर छात्रा को छात्राओं से लगवाए 168 थप्पड़, शिक्षक को जेल

होमवर्क नहीं करने पर शिक्षक द्वारा कक्षा की अन्य छात्राओं से 6 दिनों में 168 थप्पड़ लगवाने वाले शिक्षक की जमानत अर्जी थांदला न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी (जेएमएफसी) कोर्ट ने खारिज कर दी है.

News18 Madhya Pradesh
Updated: May 15, 2019, 12:58 PM IST
होमवर्क नहीं करने पर छात्रा को छात्राओं से लगवाए 168 थप्पड़, शिक्षक को जेल
सांकेतिक तस्वीर
News18 Madhya Pradesh
Updated: May 15, 2019, 12:58 PM IST
मध्य प्रदेश के झाबुआ जिले में थांदला के जवाहर नवोदय विद्यालय में छठी कक्षा की छात्रा को होमवर्क नहीं करने पर शिक्षक द्वारा कक्षा की अन्य छात्राओं से 6 दिनों में 168 थप्पड़ लगवाने वाले शिक्षक की जमानत अर्जी थांदला न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी (जेएमएफसी) कोर्ट ने खारिज कर दी है.

आपको बता दें कि बीते सोमवार को शिक्षक ने थाने में सरेंडर कर दिया था. इसके बाद शिक्षक को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया. घटना पिछले साल 2018 जनवरी माह की है. तब छात्रा के पिता की शिकायत पर पुलिस ने शिक्षक के खिलाफ मामला दर्ज किया था.



बहरहाल, शिक्षक ने झाबुआ कोर्ट में जमानत अर्जी लगाई थी. थांदला में एडीपीओ और मीडिया सेल प्रभारी वर्षा जैन ने बताया कि जज जय पाटीदार ने शिक्षक की जमानत अर्जी को खारिज करते हुए जेल भेजने का आदेश दिया है.

बता दें कि छात्रा के पिता शिव प्रताप सिंह ने शिक्षक मनोज वर्मा के खिलाफ शिकायत की थी. जांच में शिक्षक दोषी पाया गया. इसके बाद थांदला पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया. इसके बाद आरोपी को गिरफ्तार कर सोमवार को कोर्ट में प्रस्तुत किया गया.

पूरा मामला


कक्षा छठी की छात्रा बीते जनवरी 2018 में 1 से 10 तारीख तक स्कूल नहीं गई. पिता के मुताबिक इस दौरान उसका स्वास्थ्य ठीक नहीं था और उसके मेडिकल पर्ची वगैरह भी है. जब छात्रा 11 तारीख को स्कूल गई तो उसका होमवर्क पूरा नहीं था. इस पर शिक्षक मनोज वर्मा ने कक्षा की अन्य 14 छात्राओं से हर दिन उसे दो-दो थप्पड़ लगवाए. 16 तारीख तक छात्रा को हर दिन 28-28 थप्पड़ लगवाए गए.
Loading...

जब एक सप्ताह बाद छात्रा घर गई तो वो काफी तनाव और डिप्रेशन में थी. बार-बार पूछने पर उसने स्कूल में घटी घटना के बारे में बताया. 22 तारीख को स्कूल में शिकायत की, लेकिन कार्रवाई नहीं हुई. फिर 25 जनवरी को थाने में शिकायती आवेदन दिया. प्रारंभिक जांच के बाद शिक्षक मनोज वर्मा को निलंबित कर आलीराजपुर में अटैच कर दिया गया था.

ये भी देखें:- VIDEO: स्ट्रांग रूम के बाहर 24 घंटे EVM की शिफ्टों में निगरानी कर रहे कार्यकर्ता

ये भी पढ़ें:- आपसी झगड़े के बाद भाई को मारने गए थे आरोपी, पर...
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...