झाबुआ विधानसभा उपचुनाव से पहले BJP-कांग्रेस में जुबानी जंग, MP डामोर ने भूरिया के लिए कही ये बात

झाबुआ में भाजपा सांसद गुमान सिंह डामोर (MP Guman Singh Damor) और कांग्रेस के पूर्व सांसद कांतिलाल भूरिया (former MP Kantilal Bhuria) के बीच जुबानी जंग छिड़ गई.

Virendra Singh | News18 Madhya Pradesh
Updated: September 9, 2019, 11:37 PM IST
झाबुआ विधानसभा उपचुनाव से पहले BJP-कांग्रेस में जुबानी जंग, MP डामोर ने भूरिया के लिए कही ये बात
झाबुआ विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा और कांग्रेस में घमासान.
Virendra Singh | News18 Madhya Pradesh
Updated: September 9, 2019, 11:37 PM IST
झाबुआ. मध्‍य प्रदेश (Madhya Pradesh) के झाबुआ (Jhabua) में उपचुनाव होने जा रहा है और दोनों ही पार्टियों को बीच जुबानी जंग भी शुरू हो चुकी है. जी हां, प्रदेश की सत्‍ता पर काबिज कांग्रेस (Congress) और भाजपा (BJP) के नेता एक दूसरे के ऊपर तंज कसने का कोई मौका नहीं चूक रहे हैं. जबकि जुबानी जंग में मर्यादाएं भी तार-तार हो रही हैं. झाबुआ में सांसद गुमान सिंह डामोर (MP Guman Singh Damor) और पूर्व सांसद कांतिलाल भूरिया (former MP Kantilal Bhuria) के बीच जुबानी जंग छिड़ी है. कांग्रेस नेता भूरिया ने डामोर पर नंदी कहते हुए तंज कसा, तो डामोर ने जवाबी हमला करते हुए भूरिया का नाम लिए बिना कहा कि नंदी को लेकर ही घूम सकते हैं. गधे को लेकर कोई नहीं घूमता.

भूरिया और डामोर ने एक-दूसरे पर साधा निशाना
भूरिया ने एक सभा में चुटकी लेते हुए कहा कि विधायक बना था, लेकिन झाबुआ छोड़कर भाग गया. अब दिल्ली में मोबाइल चलाता रहता है. जवाबी पलटवार करते हुए गुमान सिंह ने कहा कि जिसका दिमाग चलता है वहीं मोबाइल चला सकता है.

आपको बता दें कि गुमान सिंह डामोर बीजेपी से सांसद हैं. इससे पहले वो 4 महीने के लिए झाबुआ के विधायक रह चुके हैं. सांसद का चुनाव जीतने के बाद उन्होंने विधायक पद से इस्तीफा दे दिया था. इसी वजह झाबुआ सीट पर उपचुनाव होने जा रहा है. चुनाव की तारीखों की घोषणा भले ही नहीं हुई है, लेकिन नेताओं की बीच जुबानी जंग छिड़ गई है.

पुरानी है सियासी जंग
भाजपा और कांग्रेस के इन दोनों नेताओं के बीच 2018 के विधानसभा चुनाव से ही सियासी जंग जारी है. गुमान सिंह डामोर ने विधानसभा चुनाव में कांतिलाल भूरिया के बेटे विक्रांत भूरिया को 10 हजार वोट से हराया, तो लोकसभा चुनाव में कांतिलाल भूरिया को 90 हजार वोटों से शिकस्त दी थी. झाबुआ उपचुनाव के लिए कांतिलाल भूरिया का नाम भी उम्मीदवारों की दौड़ में है, तो बीजेपी की ओर से पूरे चुनाव का केन्द्र डामोर ही रहेंगे. ऐसे में दोनों के बीच बयानों के वार हो रहे हैं.

ये भी पढ़ें:- गौशाला के बाद कमलनाथ सरकार का नया कदम, गाय को गोद लेने की योजना हुई तैयार
Loading...

कमलनाथ सरकार की नई रेत नीति पर सियासत, BJP ने कहा-नई नीति नदियों की सेहत से खिलवाड़

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए झाबुआ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 9, 2019, 11:28 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...