नाबालिग किशोरी को मामी ने बेचा, कई लोगों के हाथों हुई दुष्कर्म का शिकार

सीधी जनपद की एक किशोरी के साथ भी ऐसा ही हुआ जब वह जिस को अपनी रक्षक समझ उसकी शरण में पहुंची थी,उसी मामी ने उसका सौदा कर दिया.एक के बाद एक यह लड़की दुराचारियों की हवस का शिकार होती रही.

Prabhakar Singh | News18 Madhya Pradesh
Updated: July 12, 2018, 8:19 PM IST
नाबालिग किशोरी को मामी ने बेचा, कई लोगों के हाथों हुई दुष्कर्म का शिकार
नाबालिग किशोरी से दुष्कर्म के आरोपी जीआरपी की हिरासत में
Prabhakar Singh | News18 Madhya Pradesh
Updated: July 12, 2018, 8:19 PM IST
इन दिनों प्रदेश भर में मासूमों और नाबालिगों के साथ दुष्कर्म की खबर एक के बाद एक आ रही हैं. सियासी लोगों से लेकर सामाजिक संगटन तक चिंतित हैं कि इनको कैसे रोका जाए. लेकिन जब घर के लोग-रिश्तेदार ही बच्चियों के साथ कुठाराघात करने लगें तो भला उनकी रक्षा कैसे हो. सीधी जनपद की एक किशोरी के साथ भी ऐसा ही हुआ जब वह जिस को अपनी रक्षक समझ उसकी शरण में पहुंची थी,उसी मामी ने उसका सौदा कर दिया.एक के बाद एक यह लड़की दुराचारियों की हवस का शिकार होती रही.बुधवार को इस किशोरी को जीआरपी ने उस समय बरामद किया जब कटनी रेलवे स्टेशन पर खड़ी एक ट्रेन में उसके साथ मासूहिक दुष्कर्म कर रहे थे.

हुआ यूं कि सीधी के पौढ़ी ग्राम में रहने वाली 15 वर्षीय किशोरी की अपने घर में किसी बात को लेकर परिवार वालों के साथ कहासुनी हो गई थी. इसके बाद इस नाबालिग ने अपनी मामी का सहारा सिर छुपाने के लिए लिया.पर इस मासूम को क्या पता था. कि वही उसकी बर्बादी का कारण बनने वाली है.आरोप है कि किशोरी की मामी ने इलाके के रहने वाले पिंटू नामक युवक के साथ उसे सागर के रहने वाले शिवम पांडे्य के पास भेज दिया. मामी ने पीड़िता का शिवम से 25 हजार रुपये में सौदा कर दिया था.एक हफ्ते तक शिवम ने उसे अपनी हवस का शिकार बनाया.

जब शिवम का मन भर गया तो उसे छोड़ दिया. इसके बाद बुधवार को पीड़िता भटकती हुई कटनी पहुंची. वहां मिले उसके जानने वाले यशवन्त साहू और उसके साथी ने उसे स्टेशन में ले जाकर खड़ी ट्रेन में बलात्कार किया. मामले की जानकारी जैसे ही जीआरपी पुलिस को लगी तो मौके पर इन आरोपियों को दबोच लिया. जीआरपी दोनों आरोपी को गिरफ्तार कर थाना ले आई और अन्य आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर विवेचन शुरू कर दी.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर