चपरासी के जरिए रिश्वत ले रहा था ये अफसर, फिर हुआ कुछ ऐसा कि उड़ गए होश

मध्य प्रदेश में सरकारी कर्मचारियों के रिश्वतखोरी के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे है. अब लोकायुक्त पुलिस ने बुरहानपुर जिले में रिश्वत लेते हुए नगर परिषद के अकाउंटेंट को गिरफ्तार किया है.

Sharik Akhtar Durrani | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: December 7, 2017, 6:24 PM IST
चपरासी के जरिए रिश्वत ले रहा था ये अफसर, फिर हुआ कुछ ऐसा कि उड़ गए होश
लेखापाल शेख इशाक और चपरासी राजेश भारती
Sharik Akhtar Durrani | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: December 7, 2017, 6:24 PM IST
मध्य प्रदेश में सरकारी कर्मचारियों के रिश्वतखोरी के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे है. अब लोकायुक्त पुलिस ने बुरहानपुर जिले में रिश्वत लेते हुए नगर परिषद के अकाउंटेंट को गिरफ्तार किया है.

इंदौर लोकायुक्त पुलिस के एसपी दिलीप सोनी के अनुसार, बुरहानपुर जिले के शाहपुर नगर परिषद में पदस्थ मुख्य लिपिक एवं लेखापाल शेख इशाक और चपरासी राजेश भारती को चपरासी के माध्यम से 15 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा गया.

एसपी दिलीप सोनी ने बताया कि सुरेश कुमार नाम के शख्स की शिकायत पर यह कार्रवाई की गई. सुरेश कुमार ने बताया कि 5.35 लाख रुपए का बिल पास करने की एवज में लेखापाल शेख इशाक रिश्वत मांग रहा है. शिकायत की तस्दीक के बाद एक विशेष टीम का गठन किया गया, जिसने गुरुवार दोपहर को चपरासी के माध्यम से 15 हजार रिश्वत लेते हुए शेख इशाक को धर दबोचा.

लोकायुक्त पुलिस ने रिश्वत लेते हुए पकड़े गए लेखापाल के अलावा चपरासी के खिलाफ भी भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज किया है. कार्रवाई पूरी होने पर दोनों को निजी मुचलके पर रिहा कर दिया गया.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर