Khandwa : PM मोदी की वोकल फॉर लोकल की मुहिम में इस तरह जुड़ीं ये महिलाएं...

खंडवा की इन महिलाओं ने लॉक डाउन के दौरान मास्क बनाकर प्रशासन को दिए थे.
खंडवा की इन महिलाओं ने लॉक डाउन के दौरान मास्क बनाकर प्रशासन को दिए थे.

इन महिलाओं की पहचान को नई उड़ान और नया मुकाम देने के लिए खंडवा कलेक्टर (Collector) के साथ-साथ तमाम अधिकारियों ने पूजन सामग्री (pujan) खरीद कर इनकी हौंसला अफजाई की.

  • Share this:
खंडवा. खंडवा में वोकल फॉर लोकल का बेहतरीन उदाहरण देखने मिल रहा है. पीएम मोदी (PM Modi) की पहल पर यहां महिलाएं आत्म निर्भर बन रही हैं. वोकल फॉर लोकल को बढ़ावा देने के लिए कलेक्टर ने महिला स्व सहायता समूह को लेकर इस दिवाली (Diwali) को खास बनाने के लिए एक विशेष पहल की है. ये पहल आपकी दिवाली को तो रोशन करेगी ही उन गरीब महिलाओं का जीवन भी रोशन होगा.

रंग-बिरंगी सामग्री से सजी पूजा की एक थाली लोगों को खूब लुभा रही है. ये थाली यहां की ग्रामीण महिलाओं ने दिवाली के लिए विशेष रुप से आपके और हमारे लिए तैयार की गई है. दरअसल वोकल फॉर लोकल को बढ़ावा देने के लिए खंडवा कलेक्टर अनय द्विवेदी ने ग्रामीण आजीविका मिशन से जुड़े स्व सहायता समूह की महिलाओं को इस दीपावली पर विशेष गिफ्ट पैक और पूजन सामग्री तैयार करने के निर्देश दिए थे. कलेक्टर की पहल का स्व सहायता समूह ने भी खुलकर स्वागत किया. बस उसके बाद अलग-अलग स्व सहायता समूह की महिलाओं ने मिलकर दीपावली के अवसर पर पूजन थाली और उसमें रखी जाने वाली सामग्री तैयार की.

मार्केट भी उपलब्ध
अब पूजा की इस सामग्री को बाज़ार में कैसे लाया जाए. इसके लिए खंडवा कलेक्ट्रेट में इन स्व सहायता समूह की महिलाओं को विशेष स्थान मुहैया कराया गया है. ताकि यहां पर अपनी सामग्री को ग्राहकों तक बेच सकें.
खुश हैं महिलाएं


कोरोना काल में भी इन महिलाओं ने बड़े पैमाने पर मास्क और सेनेटाइजर तैयार कर जिला प्रशासन की फौरी तौर पर मदद की थी. अब त्यौहार के साथ-साथ इनके जीवन में भी रंग भरने के लिए प्रशासन ने फिर इन्हें एक नया मौका दिया है. स्व सहायता समूह के लोग प्रशासन की इस पहल से काफी खुश हैं.

कलेक्टर ने खरीदी पूजन थाली
इन महिलाओं की पहचान को नई उड़ान और नया मुकाम देने के लिए खंडवा कलेक्टर के साथ-साथ तमाम अधिकारियों ने  पूजन सामग्री खरीद कर इनकी हौंसला अफजाई की. ई-बाजार के दौर में इन स्व सहायता समूहों को नया मुकाम मिला है.इसी सोच और आशा के साथ वोकल फॉर लोकल की ये मुहिम आगे बढ़ चली है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज