मजबूरी में कातिल बनी मां, इलाज के लिए नहीं थे पैसे इसलिए 7 महीने की बच्ची को मार डाला

सात महीने की दूधमुंही बच्ची की बीमारी ने उसकी मां माया को तोड़ कर रख दिया था. आर्थिक तंगी और मजदूरी नहीं मिलने से वो काफी परेशान थी. अंत में परिस्थिति से हार मानकर उसने बच्ची को मार डाला.

Harendra Nath Thakur | News18 Madhya Pradesh
Updated: June 14, 2019, 1:34 PM IST
Harendra Nath Thakur
Harendra Nath Thakur | News18 Madhya Pradesh
Updated: June 14, 2019, 1:34 PM IST
मध्य प्रदेश के खंडवा में एक बेहद दर्दनाक मामला सामने आया है. यहां एक मां ने मजबूर होकर अपनी ही 7 महीने की बच्ची को मार डाला है. आरोपी मां ने अपने जिगर के टुकड़े को क्यों मारा इसके पीछे की कहानी सुनकर आपका कलेजा कांप उठेगा. दरअसल, 7 माह की बच्ची पिछले कई दिनों से बीमार थी और बच्ची के ईलाज कराने के लिए उसके पास पैसे नही थे. लिहाजा परेशान होकर महिला ने बच्ची को मौत दे डाली.

जिले के अहमदपुर खैगांव में रहने वाली महिला का नाम माया डांगोरे है. मजदूरी कर जीवन-बसर करने वाले इस परिवार के घर में 6 साल पहले एक लड़की हुई थी. किसी तरह परिवार का भरण-पोषण चल रहा था. इस दौरान 7 महीने पहले माया को दूसरी बेटी हुई थी.



शव को गोद में लेकर बैठी रही 

आरोपी महिला ने दोपहर से शाम तक बच्ची के शव को अपने गोद में बिठाकर रखा. बाद में घर से बदबू उठने पर ग्रामीणों ने महिला के रिश्तेदार को और पुलिस को इसकी सूचना दी. बाद में मोघट पुलिस गांव पहुंची और वो बच्ची को लेकर अस्पताल गई. जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया.

छोड़कर चला गया था पति

माया को जब दूसरी बेटी पैदा हुई थी तभी से पति-पत्नी के बीच लगातार झगड़े होते थे. पति अकसर माया के साथ मारपीट करता था. लगभग 15 दिन पहले भी पति ने महिला के साथ मारपीट की. उसने माया और अपनी बड़ी बेटी की पिटाई की थी और घर छोड़कर चला गया था. इसके बाद माया पर अपनी दोनों बेटियों की देखरेख के साथ परिवार चलाने की मजबूरी आ गई.

आर्थिक तंगी से परेशान
Loading...

इधर, 7 माह की दूधमुंही बच्ची की बीमारी ने माया को तोड़ कर रख दिया था. आर्थिक तंगी और मजदूरी नहीं मिलने से वो काफी परेशान थी. अंत में परिस्थिति से हार मानकर उसने 7 महीने की अपनी मासूम बच्ची को मार डाला.

ये भी पढ़ें- पुलिस की कारस्तानी.. चोर की जुबानी, कहा- 2 किलो सोना लेकर मुझे छोड़ा

ये भी पढ़ें- दिग्विजय के लिए 'मिर्ची हवन' करने वाले बाबा जल समाधि लेने को तैयार, कलेक्टर से मांगी इजाजत

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsAppअपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...