होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /

मामूली सी नौकरी करने वाले युवक के खाते से 3 अरब का ट्रांजेक्शन, इनकम टैक्स विभाग के नोटिस ने उड़ाए होश

मामूली सी नौकरी करने वाले युवक के खाते से 3 अरब का ट्रांजेक्शन, इनकम टैक्स विभाग के नोटिस ने उड़ाए होश

Khandwa News:मध्य प्रदेश के खंडवा में एक युवक को आयकर विभाग का नोटिस आया. IT ने उससे 3 अरब रुपये के ट्रांजेक्शन के बारे में पूछा है.

Khandwa News:मध्य प्रदेश के खंडवा में एक युवक को आयकर विभाग का नोटिस आया. IT ने उससे 3 अरब रुपये के ट्रांजेक्शन के बारे में पूछा है.

khandwa News: मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh News) के खंडवा (Khandwa Crime News) के खंडवा के देशगांव में रहने वाले प्रवीण राठौर को इनकम टैक्स विभाग की ओर से मिले नोटिस ने होश उड़ा दिए. नोटिस में युवक से जानकारी मांगी गई है कि उसने तीन अरब रुपये का लेनदेन क्यों किया? युवक को पता चला कि उसके नाम से बैंक अकाउंट मुंबई में खोला गया है. इन खातों से तीन अरब रुपये का ट्रांजेक्शन हुआ है. इनकम टैक्स (income tax department served notice to Khandwa Boy Praveen Rathore) से नोटिस मिलने के बाद उसे समझ नहीं आ रहा कि उसने इतना बड़ा लेनदेन कैसे किया. प्रवीण को 2021 के मार्च-अप्रैल में पहली बार इनकम टैक्स का नोटिस मिला तो उसे लगा कि उसके साथ कोई मजाक कर रहा है लेकिन 2021 में ही नवंबर महीने में उसे दूसरा नोटिस मिला और इनकम टैक्स विभाग ने प्रवीण से पूछा गया कि उसने 2 अरब 90 करोड़ रुपये का ट्रांजेक्शन अपने एक्सिस बैंक के खाते से किस वजह से किया है, तब प्रवीण के होश उड़ गए.

अधिक पढ़ें ...

खंडवा. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh News) के खंडवा (khandwa News) के देशगांव में रहने वाले एक युवक को इनकम टैक्स (Income Tax Department) का नोटिस मिलने से उसके होश उड़ गए. आईटी डिपार्टमेंट ने नोटिस देकर जानकारी मांगी कि उसने तीन अरब रुपये का लेन देन क्यों किया?  इनकम टैक्स से नोटिस मिलने के बाद से युवक को समझ नहीं आ रहा कि उसके खाते से इतनी बड़ी राशि का लेनदेन कैसे हुआ. लेकिन मामला तब समझ में आने लगा जब यह बात सामने आई कि उसके नाम से बैंक अकाउंट मुंबई में खोला गया है  जिससे तीन अरब रुपये का लेनदेन हुआ है. इस बात की शिकायत उसने इनकम टैक्स सहित पुलिस विभाग से की है कि उसके डॉक्यूमेंट से छेड़छाड़ कर किसी ने उसके साथ फ्रॉड किया है.
खंडवा के देशगांव में रहने वाले प्रवीण राठौर को 2021 के मार्च-अप्रैल में पहली बार इनकम टैक्स का नोटिस मिला तो उसे लगा कि उसके साथ कोई मजाक कर रहा है.  लेकिन 2021 में ही नवंबर महीने में उसे दूसरा नोटिस मिला और इनकम टैक्स विभाग ने प्रवीण से पूछा गया कि उसने 2 अरब 90 करोड़ रुपये का ट्रांजेक्शन अपने एक्सिस बैंक के खाते से किस वजह से किया है, तब प्रवीण के होश उड़ गए.

पहले आईटी नोटिस को समझा मजाक, फिर लगा जोरदार झटका

प्रवीण ग्रामीण क्षेत्र के एक छोटे से किसान का बेटा है. इतनी बड़ी राशि का ट्रांजेक्शन उसने कभी भी अपने बैंक अकाउंट से नहीं किया. सबसे बड़ी बात यह कि उसका एक्सिस बैंक में कोई अकाउंट ही नहीं है ना ही वह कभी मुंबई गया. नोटिस मिलने के बाद प्रवीण लगातार इनकम टैक्स और पुलिस के चक्कर काट अपनी फरियाद सुनाने में लगा हुआ है. प्रवीण ने बताया कि मार्च 2021 मैं उसे पहली बार इनकम टैक्स का नोटिस मिला था तो उसने उस बात को हल्के में लिया. लेकिन दोबारा 2021 के नवंबर में ही उसे दूसरा नोटिस इनकम टैक्स से मिला तो उसने अपनी छानबीन शुरू की. प्रवीण को लगा कि वह जिस कॉल सेंटर में काम करता था उसे नोटिस वहीं से मिला होगा.

बता दें कि प्रवीण 2011 से 2015 तक इंदौर के कॉल सेंटर में नौकरी करता था और वहां उसके पीएफ का पैसा लेना था. जब उसने अपने कॉल सेंटर के दफ्तर का पता किया तो पता चला कि यहां से उसे कोई नोटिस नहीं भेजा गया है. फिर वह खंडवा स्थित इनकम टैक्स के ऑफिस पहुंचा और इस नोटिस के बारे में पूछताछ की. खंडवा इनकम टैक्स ऑफिस में उसे संतुष्ट जवाब नहीं मिला और उसे इंदौर इनकम टैक्स ऑफिस भेज दिया गया. जब वहां से भी उसे कोई जवाब नहीं मिला तो प्रवीण निराश होकर वापस लौट आया. 2022 फरवरी महीने में प्रवीण को तीसरा नोटिस मिला उसके बाद प्रवीण एक बार फिर इनकम टैक्स के खंडवा ऑफिस पहुंच कर अपना दुखड़ा सुनाया.

ये भी पढ़ें:  ‘The Kashmir Files’ देखने MP पुलिस को मिलेगी 1 दिन की छुट्टी, पढ़ें डिटेल 

प्रवीण की पूरी कहानी सुनकर इनकम टैक्स में उसे पुलिस में कंप्लेंट करने की बात कही. प्रवीण स्थानीय थाने में रिपोर्ट करने पहुंचा तो मामला मुंबई का होने से उसे वहां जाने की सलाह दी गई.  प्रवीण अपनी फरियाद इंदौर कमिश्नर ऑफिस लेकर भी पहुंचा. 24 फरवरी को उसने पुलिस कमिश्नर इंदौर के ऑफिस में आवेदन देकर पुलिस को बताया कि उसके साथ फ्रॉड हुआ है. किसी ने उसके दस्तावेजों का गलत इस्तेमाल कर उसके साथ फ्रॉड किया है. प्रवीण ने बताया कि वह जीवन में कभी मुंबई नहीं गया. ना ही उसने एक्सिस बैंक में कभी कोई अकाउंट खोला है.

प्रवीण इस मामले की तह में जाने के लिए खंडवा स्थित एक्सिस बैंक के ऑफिस में पहुंचा और उसने अपने इस कथित खाते की जानकारी लेनी चाही, तब उसे पता चला कि यह खाता 2013 में खुला था  और कुछ समय बाद इसमें लंबा ट्रांजैक्शन होने के बाद यह खाता बंद भी हो गया. इस खाते में प्रवीण का पैन कार्ड उपयोग किया गया है जिसके बाद प्रवीण ने खंडवा पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचकर पुलिस के सामने उसके साथ हुए फ्रॉड की शिकायत दर्ज करने की मांग की है.

Tags: Bank fraud, Khandwa news, Mp news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर