लोकायुक्त पुलिस ने श्रम विभाग के क्लर्क को घूस लेते रंगे हाथ पकड़ा

खरगोन में आज इन्दौर लोकायुक्त पुलिस ने श्रम विभाग में द्वितीय श्रेणी के बाबू नारायण ब्राह्मणे को 5 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया.

Ashutosh Purohit | News18 Madhya Pradesh
Updated: August 7, 2019, 5:03 PM IST
Ashutosh Purohit | News18 Madhya Pradesh
Updated: August 7, 2019, 5:03 PM IST
खरगोन में आज इन्दौर लोकायुक्त पुलिस ने श्रम विभाग के क्लर्क बाबू नारायण ब्राह्मणे को 5 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ लिया. आरोपी क्लर्क बाबू फरियादी जयनारायण गुप्ता से पुराने मकान के नक्शे की मांग को लेकर रिश्वत मांग रहा था. इन्दौर लोकायुक्त डीएसपी प्रवीण बघेल ने बताया कि फरियादी जय नारायण गुप्ता निवासी गोगावा से मकान के नक्शे को लेकर आरोपी क्लर्क बाबू नाराण ब्राह्मणे द्वारा 5 हजार की रिश्वत मांगी गई थी. उन्होंने कहा कि फरियादी द्वारा की गई शिकायत पर एक टीम का गठन किया गया. उस टीम ने आज सुबह आरोपी बाबू को घूस लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया.

क्लर्क ने रिश्वत की मांग की

फरियादी ने कहा कि क्लर्क ने  6 हजार रुपये में मामला निपटाए जाने की बात कही थी.


फरियादी जयनारायण ने बताया कि उन्हें श्रम अधिकारी ने नोटिस दिया था. नोटिस मिलने के बाद जब वह श्रम अधिकारी से मिले तो उन्हें विभाग के बाबू नारायण ब्राह्मणे से मिलने को कहा गया. मिलने पर बाबू ने उनसे रिश्वत की मांग की.

फरियादी जयनारायण के अनुसार बाबू ने उनसे 6 हजार रुपये में मामला निपटाए जाने की बात कही. फरियादी ने कहा कि वह रिश्वत नहीं देना चाहता था. इसलिए उन्होंने इसकी शिकायत इन्दौर लोकायुक्त पुलिस से कर दी. शिकायत मिलने के बाद जाल बिछाकर लोकायुक्त पुलिस ने श्रम विभाग के क्लर्क बाबू नारायण ब्राह्मणे को रंगेहाथ गिरफ्तार कर लिया गया. जानकारी के अनुसार मामले में अब आगे की कार्रवाई की जा रही है.

ये भी पढ़ें - 3 बच्चों को साथ ले जा रहे बच्चा चोर 'बाबा' को पब्लिक ने पीटा

ये भी देखें - सुषमा के निधन पर 'हिन्‍दुस्‍तान की बेटी' ने बयां किया दर्द

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए खरगोन से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 7, 2019, 3:45 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...