होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /यहां महिलाएं नहीं सिर्फ पुरुष ही करते हैं गरबा, देखिए इस अनूठी परंपरा का वीडियो...

यहां महिलाएं नहीं सिर्फ पुरुष ही करते हैं गरबा, देखिए इस अनूठी परंपरा का वीडियो...

खरगोन के बाकी माता मंदिर में सिर्फ पुरुषों के गरबा करने की प्राचीन परंपरा है.

खरगोन के बाकी माता मंदिर में सिर्फ पुरुषों के गरबा करने की प्राचीन परंपरा है.

Navratri Special 2022: इस अनोखे मंदिर में नवरात्रि पर्व पर सिर्फ पुरूष ही गरबा कर सकते हैं. यहां महिलाएं केवल गरबा देखन ...अधिक पढ़ें

खरगोन. आपने नवरात्रि पर लड़कियों और महिलाओं को गरबा खेलते देखा होगा. लेकिन आज हम खरगोन के एक प्राचीन ऐतिहासिक बाकी माता मंदिर की अनूठी परंपरा के बारे में बताने जा रहे हैं. जहां सिर्फ पुरुष ही गरबा करने आते हैं, लड़कियां और महिलाएं गरबा देखती हैं. इस गरबे में डांडिया नहीं बल्कि पुरुष हाथों से ताली बजाकर गरबा करते हैं.

पुरुष करते हैं गरबा महिलाएं देखती हैं
दरअसल लगभग 290 सालों से ऐसी धार्मिक मान्यता है, कि लड़कियां और महिलाएं गरबा करके माता को प्रसन्न करती हैं. लेकिन देश में एक मात्र खरगोन में बाकी माता का मंदिर है, जहां पुरुष गरबा करते हैं और महिलाएं गरबा देखने और सुनने आती हैं. यहां नवरात्रि के दौरान रात में देवी की आरती से पहले गुजराती गीत पर 7 गरबे होते हैं. ये ऐसा मंदिर है जहां नौ देवियों के साथ-साथ भैरव और हुनमान जी भी विराजित हैं. इनके ठीक सामने भगवान शिव भी विराजमान हैं.

प्राचीनकाल से चली आ रही है ये परंपरा 
बाकी माता मंदिर के पुजारी रामकृष्ण भट्ट का कहना है कि यह देश का एक मात्र मंदिर है, जहां एक साथ देवी के नौ स्वरूप विराजित हैं. मंदिर के पास कुंए से ही मूर्ति निकली थी. यहां पुरुष ही गरबे करते हैं महिला सुनने, देखने आती हैं. यहां पुरुष प्राचीन परम्परा के अनुसार गरबा करते हैं." isDesktop="true" id="4691587" >

ये परम्परा पुराने समय से चली आ रही है. उस समय महिला पर्दे में ही रहती थीं. पुरुषों का गरबा देखना तो दूर उनका बाहर निकलना भी प्रतिबंधित था. बढ़ते समय के साथ नवरात्रि के पर्व के दौरान गरबा में आधुनिकता का रंग जमकर चढ़ गया है. लेकिन बाकी माता के मंदिर में पुरुष गरबा के दौरान आस्था, श्रद्धा और भक्ति दिखाई देती है. इस गरबा में डांडिया का प्रयोग नहीं किया जाता. श्रदालु माता के नौ स्वरूपों की परिक्रमा कर गरबे के गुजराती विशेष गीत पर ताली बजा बजाकर गरबा करते हैं.

Tags: Madhya pradesh neews, Navratri, Navratri festival

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें