अपना शहर चुनें

States

#AskPMonNews18: पीएम मोदी ने एमपी की छात्रा को दिया जवाब

सभी स्कूलों में प्रसारण सुनिश्चत करने के लिए केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने तमाम स्कूलों को कार्यक्रम के लाइव टेलिकास्ट की व्यवस्था करने के निर्देश दिए थे.

  • Share this:
10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा से ठीक पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने स्कूली छात्रों से सीधा संवाद दिया. प्रधानमंत्री मोदी ने दिल्ली स्थित तालकटोरा स्टेडियम में परिचर्चा सत्र में छात्रों के सवालों का भी जवाब दिया. #AskPM सेशन के दौरान मध्य प्रदेश के खरगोन जिले की छात्रा ने परीक्षा के तनाव से जुड़ा सवाल पूछा था.

परीक्षा पर चर्चा में खरगोन जिले के आदित्य विद्या विहार की छात्रा युक्ति भट्ट ने न्यूज18/ईटीवी के जरिए सवाल पूछा था, 'बोर्ड परीक्षा के दौरान तनाव इसलिए होता है क्योंकि कॉम्पिटिशन बढ़ जाता है. बच्चों के दिमाग में प्रेशर पड़ता है कि ज्यादा अच्छे अंक लाने है और क्लास में फर्स्ट आना है. पैरेंट्स भी बच्चों को अच्छे नंबर लाने के लिए बोलते है. कॉम्पिटिटिव एग्जाम की तैयारी भी करनी पड़ती है. इसलिए तनाव ज्यादा हो जाता है.'

प्रधानमंत्री ने सवाल के जवाब में मंत्र देते हुए कहा, 'आपके भीतर क्या खास है. आप कौन सी बात में समर्थ हो. इसमें दोस्त मदद करेंगे. खेल जगत में बड़े खिलाड़ियों से कोई डिग्री के बारे में नहीं पूछता. प्रतिस्पर्धा में उतरते है तो आपको तनाव महसूस करना पड़ता है. आप दूसरों को देखने के बजाए अनुस्पर्धा करे. खुद की ताकत को पहचाने.'



प्रधानमंत्री ने कहा,
आप अपने दोस्तों के साथ स्पर्धा में उतरते क्यों हो. उसका मैदान, सोच, परवरिश, रुचि अलग है. आपकी परवरिश और सोच अलग है. आप एक स्वतंत्र व्यक्ति है. आपको उसे पूरे इको सिस्टम का पता नहीं है. आप उसको देखकर उसमें फिट हो जाते है. अपना भी खुद खो देते हो और उसको भी हासिल नहीं कर सकते हो. फिर माता-पिता की डांट खाते हो और निराशा में आ जाते हो. आप अपनी ताकत पहचानों और उसी में आगे बढ़ने की कोशिश करो.


इससे पहले प्रधानमंत्री ने कुछ दिन पहले ही छात्रों के लिए ‘एग्जाम वॉरियर’ नामक किताब लिखी ही है जिसमे उन्होंने परीक्षा के लिए 25 मंत्र बताएं है. इस किताब से छात्रों का हौसला बढ़ेगा. किताब में पीएम मोदी ने संदेश दिया है कि परीक्षा से डरने की कोई जरूरत नहीं होती है. इससे डरने की बजाए किसी त्योहार की तरह इसका जश्न मनाना चाहिए. 193 पन्नों की इस किताब में परीक्षा की तैयारी कर रहे परीक्षार्थियों के लिए 25 अध्यायों में 25 नुस्खे दिए गए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज