Home /News /madhya-pradesh /

shivam shukla injured during khargone violence on ramnavami recovered and returned home mpsg

खरगोन हिंसा : 1 महीने से अस्पताल में भर्ती शिवम घर लौट आया, CM शिवराज ने करवाया इलाज

Khargone Violence. खरगोन हिंसा में घायल शिवम का एक महीने से ज्यादा समय तक इंदौर में इलाज चला.

Khargone Violence. खरगोन हिंसा में घायल शिवम का एक महीने से ज्यादा समय तक इंदौर में इलाज चला.

Khargone Violence : सबकी दुआ और डॉक्टरों की दवा काम आयी. लंबे चले इलाज के बाद शिवम ठीक हो गया. मौत को मात देकर जिंदगी के साथ मुस्कुराता हुआ वो वापस अपने मामा के घर लौट आया. इंदौर के निजी अस्पताल में करीब एक माह से अधिक समय से भर्ती शिवम की अस्पताल से छुट्टी कर दी गई है. हलाकि अभी भी शिवम को पूर्ण स्वस्थ्य होने में समय लगेगा.

अधिक पढ़ें ...

खरगोन. शिवम ठीक हो गया और अपने मामा के घर लौट आया. वही शिवम शुक्ला जो रामनवमी के जुलूस के दौरान पथराव में घायल हो गया था और एक महीने से इंदौर के अस्पताल में जिंदगी और मौत के बीच झूल रहा था. शिवम के लिए सब दुआ कर रहे थे. खुद सीएम शिवराज सिंह चौहान ने भी लगातार.उसके परिवार को फोन कर शिवम का हाल जाना जाना था.

खरगोन में रामनवमी के जुलूस पर पथराव के बाद भड़की हिंसा में जमींदार मोहल्ला में रहने वाला छात्र शिवम शुक्ला घायल हो गया था. उसके सिर में पत्थर लगने से ब्लड क्लॉट हो गया था. शिवम को पहले खरगोन और फिर वहां से इंदौर भेज दिया गया था. वहां उसके सिर की सर्जरी हुई थी. तब से वो इंदौर में भर्ती था.

दवा और दुआ का असर
सबकी दुआ और डॉक्टरों की दवा काम आयी. लंबे चले इलाज के बाद शिवम ठीक हो गया. मौत को मात देकर जिंदगी के साथ मुस्कुराता हुआ वो वापस अपने मामा के घर लौट आया. इंदौर के निजी अस्पताल में करीब एक माह से अधिक समय से भर्ती शिवम की अस्पताल से छुट्टी कर दी गई है. हलाकि अभी भी शिवम को पूर्ण स्वस्थ्य होने में समय लगेगा.

ये भी पढ़ें- कांग्रेस में नहीं आए प्रशांत किशोर लेकिन उनके फॉर्मूले को इस राज्य में अपनाएगी पार्टी, एजेंडा तैयार

सबका आभार
शिवम के घर लौटने पर सब खुश हैं. शिवम को ठीक होने में वक्त लगेगा लेकिन वो जीवित घर लौट आया इसकी सबको खुशी है. परिवार ईश्वर और सब लोगों का धन्यवाद कर रहा है. सीएम शिवराज सिंह चौहान का आभार मान रहे हैं. 10 अप्रैल को रामनवमी के जुलूस के दौरान भड़की हिंसा के दौरान शिवम मंदिर में था. तभी हुए पथराव और हिंसा में सिर में पत्थर लगने से घायल हो गया था. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने खुद इस पर ध्यान दिया औऱ शिवम के अच्छे से अच्छे इलाज का निर्देश दिया. सरकार ने उसका पूरा इलाज कराया. शिवराज सिंह चौहान ने वीडियो कॉल के जरिए बार बार हाल जाना था. उसके इलाज का सारा खर्च उठाने की घोषण की थी. खरगोन जिले के प्रभारी मंत्री कमल पटेल शिवम को देखने अस्पताल पहुंचे थे.

Tags: Communal Riot, Madhya pradesh latest news, Violence

अगली ख़बर