गए थे महेश्वर घूमने, बच्चा चोर समझकर गांव वालों ने इतना पीटा कि पहुंच गए अस्पताल

बच्चा चोर गिरोह की आशंका में महेश्वर (खरगोन में स्थित शहर) आ रहे पर्यटकों पर भुवन तलाई गांव के लोगों ने जानलेवा हमला कर दिया.

Ashutosh Purohit | News18 Madhya Pradesh
Updated: August 6, 2019, 7:17 AM IST
गए थे महेश्वर घूमने, बच्चा चोर समझकर गांव वालों ने इतना पीटा कि पहुंच गए अस्पताल
बच्चा चोर गिरोह की आशंका में महेश्वर (खरगोन में स्थित शहर) आ रहे पर्यटकों पर भुवन तलाई गांव के लोगों ने जानलेवा हमला कर दिया.
Ashutosh Purohit | News18 Madhya Pradesh
Updated: August 6, 2019, 7:17 AM IST
मध्य प्रदेश के खरगोन जिले में एक बार फिर मॉब लिंचिंग की घटना सामने आई है. बच्चा चोर गिरोह की आशंका में महेश्वर (खरगोन में स्थित शहर) आ रहे पर्यटकों पर भुवन तलाई गांव के लोगों ने जानलेवा हमला कर दिया.

हमले में 8 पर्यटक घायल

मारपीट-beating
हमले में करीब 8 पर्यटक गंभीर रूप से घायल हो गए.


आपको बता दें कि इस अफवाह के चलते हमले में करीब 8 पर्यटक गंभीर रूप से घायल हो गए. इधर, संबंधित मामले में एसपी सुनील पांडेय ने बताया कि इंदौर से महेश्वर (खरगोन) पर्यटक अपनी कार में आ रहे थे, तभी वे उस दौरान धार जिले के गुजरी के पास से रास्ता भूल गए. ऐसे में रास्ता पूछने के दौरान भुवन तलाई गांव में मॉब वे लिंचिंग के शिकार हो गए.

मारपीट करने वाले 9 ग्रामीण गिरफ्तार

वहीं महेश्वर पुलिस ने 12 लोगों के खिलाफ मारपीट का मामला दर्ज कर 9 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. वहीं तीन लोगों की तलाश जारी है. बीते दिनों हुई घटना के बाद से खरगोन जिले में बच्चा चोरी की अफवाह थमने का नाम नहीं ले रही है.

अफवाह फैलाने वाले को बख्शा नहीं जाएगा : SP
Loading...

बता दें कि जिले में अब तक बच्चा चोरी के अफवाह की तीन घटनाएं हो चुकी हैं. एसपी सुनील पांडेय ने बताया कि जबकि अभी तक जिले में एक भी बच्चा चोरी की घटना नहीं हुई है. इसी क्रम में बीते सोमवार को बच्चा चोरी की अफवाह में पर्यटकों पर हुए हमले में शामिल 9 ग्रामीणों को पकड़ा गया है. एसपी ने कहा कि अफवाह फैलाकर लोगों से मारपीट करने वालों को बिलकुल बख्शा नहीं जाएगा.

ये भी पढ़ें:- 'पाकिस्‍तान का गुणगान करने वालों का चेहरा बेनकाब' 

ये भी पढ़ें:- कमलनाथ को देश का प्रधानमंत्री होना चाहिए : जीतू पटवारी
First published: August 6, 2019, 7:17 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...