खरगोन की महत्वाकांक्षी बिस्टान सिंचाई परियोजना को लेकर ग्रामीणों में बइंतहा खुशी

परियोजना को लेकर महिलाओं में है ज्यादा खुशी.

परियोजना को लेकर महिलाओं में है ज्यादा खुशी.

मध्य प्रदेश के खरगोन जिले की महत्वाकांक्षी बिस्टान सिंचाई परियोजना से 92 गांव के किसानों को पानी मिलेगा. इस परियोजना को लेकर ग्रामीण और किसान विशेषकर महिलाओं में काफी खुशी है.

  • Share this:
मध्य प्रदेश के खरगोन जिले की महत्वाकांक्षी बिस्टान सिंचाई परियोजना से 92 गांव के किसानों को पानी मिलेगा. इस परियोजना को लेकर ग्रामीण और किसान विशेषकर महिलाओं में काफी खुशी है.



योजना में पर्यावरण संबंधी आपत्ति दूर करने को लेकर बुलाई गई जनसुनवाई में महिलाओं ने सीएम शिवराज सिंह चौहान की सौगात में बिस्टान परियोजना को लेकर निमाडी में एक गाना तैयार कर डाला. इस गाने का बोल है...'काई काई करी न नहर लायो रे भाई शिवराज, हमरा गांव में नहर लायो रे भाई शिवराज भाई.'



गौरतलब है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सूखे पहाड़ी क्षेत्र बिस्टान और उसके आसपास के कुल 92 गांवों के लिये महत्वपूर्ण बिस्टान उद्धवहन परियोजना तैयार कराई है. सीएम ने 15 जनवरी को सात माह पहले भूमि पूजन भी किया था.





आने वाले समय में गांव में नहर के पानी आने के संदेश के साथ खुश ग्रामीण महिलाओं ने गीत गाए और नर्मदा उद्धवहन नहर योजना के लिए ग्रामीण किसान महिलाओं ने गीत के माध्यम से  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सरकार को धन्यवाद दिया. पूरे नजारे को देख अधिकारी, प्रशासन के अधिकारी और निर्माणकर्ता कंपनी एचसीसीएल के लोग आश्चर्य में थे.
आमतौर पर गांवों मे जनसुनवाई के आयोजन मे हमेशा ग्रामीण और अधिकारियों के बीच आक्रोश ही देखने को मिलता है, लेकिन यहां का नजारा देखकर अधिकारियों को कुछ समझ नहीं आ रहा था.



नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण द्वारा लिफ्ट एरिगेशन के माध्यम से 22 हजार हेक्टेयर में सिंचाई करने की योजना को लेकर जनसुनवाई आयोजन रखा गया था.



 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज