Assembly Banner 2021

कांग्रेस में शामि‍ल हुए बाबूलाल चौरसि‍या, बोले- हिन्दू महासभा ने मुझे अंधेरे में रखकर कराई थी गोडसे की पूजा

सांकेतिक फोटो.

सांकेतिक फोटो.

Madhya Pradesh News: कांग्रेस में शामिल होने वाले अखिल भारतीय हिंदू महासभा के कार्यकर्ता बाबूलाल चौरसिया से जब उनसे पूछा कि क्या कारण है गोडसे की विचारधारा छोड़कर आप अब आप कांग्रेस में चले गए हैं तो उनका जवाब था कि मैं तो पहले से ही कांग्रेसी था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 25, 2021, 1:06 PM IST
  • Share this:
मध्‍य प्रदेश में अखिल भारतीय हिंदू महासभा के कार्यकर्ता बाबूलाल चौरसिया ने हिंदू महासभा छोड़कर कांग्रेस पार्टी ज्वाइन कर ली है. बुधवार को भोपाल में ग्वालियर से क्षेत्रीय विधायक प्रवीण पाठक के साथ मिलकर कमलनाथ के समक्ष कांग्रेस पार्टी का हाथ थाम लिया है. कांग्रेस में शामिल होते ही बाबू लाल के सुर बदल गए.

महात्मा गांधी के हत्या करने वाले नाथूराम गोडसे की विचारधारा से ओतप्रोत रहे बाबूलाल चौरसिया अब महात्मा गांधी के विचारधारा के लोगों के साथ चले गए हैं. जब उनसे पूछा कि क्या कारण है गोडसे की विचारधारा छोड़कर आप अब आप कांग्रेस में चले गए हैं तो उनका जवाब था कि मैं तो पहले से ही कांग्रेसी था.

कांग्रेस में शाम‍िल होने के बाद बाबू लाल चौरस‍िया ने कहा क‍ि हिंदू महासभा ने मुझे षड्यंत्र करके मुझे अपने साथ बनाए रखा. जब मुझे लगा कि गलत लोगों के साथ हूं उनकी कार्यशैली मुझे पसंद नहीं आ रही थी इसीलिए मैंने हिंदू महासभा छोड़कर कांग्रेस का दामन थाम लिया है. बाबूलाल चौरसिया ने यह भी माना कि पिछली बार वार्ड 44 से मैं हिंदू महासभा के कार्यकर्ता के रूप में ही पार्षद बना था.



उन्‍होंने कहा क‍ि मैं जन्मजात कांग्रेसी हूं. हिन्दू महासभा ने मुझे अंधेरे में रखकर गोडसे की पूजा कराई थी. पिछले 2-3 साल से मैं इनके इस तरह के कार्यक्रम से दूरी बनाकर चल रहा था. मेरे मन में हिन्दू महासभा की विचारधारा समाहित नहीं हो सकी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज