Home /News /madhya-pradesh /

इंदौर: मारिजुआना के बाद अमेजन ने डिलिवर किया 'जहर', युवक की मौत के बाद पिता ने की शिकायत

इंदौर: मारिजुआना के बाद अमेजन ने डिलिवर किया 'जहर', युवक की मौत के बाद पिता ने की शिकायत

ऑनलाइन ई-कॉमर्स पोर्टल अमेज़न. (फाइल फोटो)

ऑनलाइन ई-कॉमर्स पोर्टल अमेज़न. (फाइल फोटो)

Indore Amazon Delivered Poison: इंदौर की लोधी कॉलोनी निवासी रंजीत वर्मा के बेटे आदित्य की 29 जुलाई को जहर खाकर आत्महत्या करने से मौत हो गई थी. बाद में पता चला कि आदित्य ने यह पदार्थ ऑनलाइन खरीदा था. वर्मा इंदौर में एक जनसुनवाई के दौरान कलेक्ट्रेट पहुंचे और अमेज़न के खिलाफ शिकायत करते हुए कहा कि ई-कॉमर्स पोर्टल ने ऑनलाइन ऑर्डर के जरिए उनके बेटे आदित्य को 'सेल्फोस' आसानी से उपलब्ध करा दिया.

अधिक पढ़ें ...

    इंदौर. मध्य प्रदेश में भिंड पुलिस (Bhind Police) द्वारा हाल ही में मारिजुआना (Marijuana) की ऑनलाइन डिलीवरी को लेकर ऑनलाइन ई-कॉमर्स पोर्टल अमेजन (Amazon) के कार्यकारी निदेशकों के खिलाफ मामला दर्ज करने के बाद, इंदौर में एक व्यक्ति ने जिला कलेक्टर (District Collector) से शिकायत करते हुए आरोप लगाया है कि पोर्टल ने एक ऑनलाइन ऑर्डर पर जहरीला पदार्थ पहुँचाया जिससे उसके बेटे की मौत हो गई.

    इंदौर के लोधी कॉलोनी निवासी रंजीत वर्मा के बेटे आदित्य की 29 जुलाई को जहर खाकर आत्महत्या करने से मौत हो गई थी. बाद में पता चला कि आदित्य ने यह पदार्थ ऑनलाइन खरीदा था. वर्मा मंगलवार को इंदौर में एक जनसुनवाई के दौरान कलेक्ट्रेट पहुंचे और अमेज़न के खिलाफ शिकायत करते हुए कहा कि ई-कॉमर्स पोर्टल ने ऑनलाइन ऑर्डर के जरिए उनके बेटे आदित्य को ‘सेल्फोस’ आसानी से उपलब्ध करा दिया.

    30 जुलाई को हुई थी युवक की मौत
    वर्मा अपने 18 वर्षीय बेटे द्वारा किए गए ऑनलाइन लेनदेन के डिलीवरी पैकेज और अन्य दस्तावेज साथ लाए थे. आदित्य एक फल विक्रेता के रूप में काम करता था. रंजीत ने बताया कि उनके बेटे ने चार पैकेट ऑर्डर किए थे. 29 जुलाई को सेल्फोस खाने के बाद आदित्य को अस्पताल ले जाया गया, जहां अगले दिन उसकी मौत हो गई.

    युवक के पिता ने कलेक्टर को सौंपे सारे विवरण
    वर्मा ने मीडिया से बात करते हुए दावा किया कि सेल्फोस किसी भी केमिस्ट या अन्य दुकान पर आसानी से उपलब्ध नहीं होता, लेकिन उनके बेटे के ऑनलाइन ऑर्डर के बाद इसे तुरंत डिलीवर कर दिया गया. उन्होंने कहा कि उसके बेटे आदित्य ने 22 जुलाई को यह ऑर्डर बुक किया था और उसके पास ऑर्डर नंबर और अन्य विवरण हैं जो उसने कलेक्टर को सौंपे हैं.

    कीर्ति आजाद TMC में शामिल, कांग्रेस ने कहा- दिल्ली में सियासी धंधा कर रही हैं ममता बनर्जी!

    कुछ युवकों ने अमेज़न पर मारिजुआना, शराब और अब जहर जैसी चीजें ऑनलाइन बेचने का आरोप लगाते हुए कलेक्ट्रेट पर विरोध-प्रदर्शन भी किया और मांग की कि ऐसे ई-कॉमर्स पोर्टल पर प्रतिबंध लगाया जाए.

    इंदौर के कलेक्टर मनीष सिंह (Indore Collector Manish Singh) ने मीडिया से बात करते हुए पुष्टि की कि उन्हें अमेजन के खिलाफ शिकायत मिली है. उन्होंने कहा कि अगर अमेजन की ओर से कोई भी इस मामले में दोषी पाया जाता है, तो उस पर राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया जाएगा.

    Tags: Amazon, Indore news, Madhya pradesh news

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर