होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /मंडला के इस मंदिर में हजार साल पुरानी सूर्य प्रतिमा को देवी मानकर करते हैं पूजा, जानें वजह

मंडला के इस मंदिर में हजार साल पुरानी सूर्य प्रतिमा को देवी मानकर करते हैं पूजा, जानें वजह

इतिहास कारों की माने तो  लगभग एक हजार साल  पुरानी कलचुरी कालीन प्रतिमा है.

इतिहास कारों की माने तो  लगभग एक हजार साल  पुरानी कलचुरी कालीन प्रतिमा है.

नवरात्रि के अवसर पर देवी मंदिरों में मां की आराधना उनके विभिन्न स्वरूपों की जा रही है. ऐसा ही एक विचित्र मंदिर और अदभुत ...अधिक पढ़ें

आलेख तिवारी/मंडला. मध्यप्रदेश के आदिवासी बाहुल्य जिला मंडला की तहसील निवास मुख्यालय से महज 5 किलोमीटर दूरी पर ग्राम बिझौली है. इतिहासकारों की माने तो मंदिर में लगभग एक हजार साल पुरानी कलचुरी कालीन प्रतिमा है, जिसे लोग देवी दुर्गा के रूप में पूजते हैं. यह मूर्ती स्थापत्य कला की अदभुत मिसाल है. मदिर में स्थापित मूर्ती सूर्य के साथ भगवान विष्णु के अलग अलग अवतरणों की है, लेकिन श्रद्धालु इसको मां दुर्गा का स्वरूप मानकर सैकडों सालो से इस दे्व प्रतिमा की आराधना कर रहे हैं.

श्रृद्धालुओं का कहना है कि यहां की गई हर मनोकामना पूर्ण होती है. भक्त यहां संतान की प्राप्ति से लेकर कोर्ट कचहरी तक के मामलों और वर्षों पुरानी असाध्य बीमारी से स्वस्थ होने की कामना लेकर आते हैं. मान्यता है कि यहां भक्तों की हर मनोकामना पूर्ण होती है इसलिए यह मंदिर एक मढ़िया के रूप में स्थापित होकर बिझौली की मढ़िया के नाम से भी जाना जाता है. मंडला के अलावा आसपास के जबलपुर डिंडौरी उमरिया बालाघाट आदि जिलों से भी श्रद्धालु यहां पहुंचकर मन्नत मांगते हैं और पूरी होने पर तरह तरह की भेंट माता को अर्पित करते हैं.

नवरात्र में लगता है.श्रद्धालुओं का तांता
चैत्र और शारदीय नवरात्र में यहाँ पर मन्नत मांगने वालों श्रद्धालुओं की बहुत भीड़ लगती है, जिसमे अधिकतर श्रद्धालु कीर्तन करते हुए माता के मंदिर तक पहुँचते है। मंदिर में लोग अपनी मन्नत पूरी होने के बाद सोने या चाँदी के गहने भी अर्पित करते है. इस गांव के लोगों का कहना है की मंदिर में स्थापित मूर्ति को तकरीबन सौ साल पहले एक खेत के पास देखा गया था जिसके बाद इस मंदिर में स्थापित किया गया. बदलते वक्त के साथ इस प्रतिमा की मान्यता भी बढ़ती चली गई. अब इसकी चर्चा पूरे मध्य प्रदेश में की जाती है. देशभर से श्रद्धालु यहां दर्शन के लिए पहुंचते हैं.

Tags: Madhya pradesh news, Mandla news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें