कोरोना से खिलाफ मैदान में उतरे साधू और संत, शुरू किया महामृत्युंजय मंत्र का जाप

मध्य प्रदेश के मंडला जिले में मां दुर्गा की उपासना चल रही है. (प्रतीकात्मक फोटो)
मध्य प्रदेश के मंडला जिले में मां दुर्गा की उपासना चल रही है. (प्रतीकात्मक फोटो)

कोरोना वायरस (Corona Virus) के संक्रमण को रोकने के लिए अब मध्य प्रदेश (MP) के मंडला जिले में मां दुर्गा की उपासना करने का निर्णय साधू-संतों ने लिया है.

  • Share this:
मंडला. पूरा देश कोरोना महामारी से परेशान दिख रहा है. इस समस्या से निपटने के लिए सरकार, राजनीतिक दल और सामाजिक संगठन एक साथ खड़े दिख रहे हैं. इन सब के बीच मनुष्य को अध्यात्म का रास्ता दिखाने वाले साधू-संत इस लड़ाई के कैसे पीछे रह सकते हैं? इसके खिलाफ लड़ाई में संत भी सामने आ रहे हैं. कोरोना वायरस (Corona Virus) के फैलते संक्रमण को रोकने के लिए अब मध्य प्रदेश (MP) के मंडला जिले में मां दुर्गा की उपासना करने का निर्णय साधू-संतों ने लिया है. जिले के बरगंवा गांव में साधू संतों ने मां दुर्गा के सामने बैठकर महामृत्युंजय मंत्र और महामारी के विनाश के लिए सवा लाख मंत्रो के जाप का संकल्प लिया है. यहां मौजूद साधू और संतों ने मिलकर मंत्रो का जाप करना शुरू कर दिया है.

मंत्रों का हो रहा जाप
माना जाता है कि भारत संस्कृति की पंरपरा में सर्वे भवन्तु सुखिनः सर्वे सन्तु निरामयाः की कामना की जाती है. कोरोना महामारी के बीच सबके कल्याण के लिए मां आदि शक्ति पीठ में महामृत्युंजय और महामारी नाशक सवा लाख मंत्रो का जाप जारी है. यहां पर मौजूद साधू महामारी नाशक मंत्र का भी जाप कर रहे है.

कई दिनों से चल रहा विनाशक मंत्र का जाप
इन संतो का मानना है कि मां आदि शाक्ति के सामने बैठकर महामारी विनाशक मंत्र का जाप करने से इस बीमारी का नाश हो जाता है. ये सिलसिला कई दिनों से लगातार चल रहा है. गौरतलब है कि कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए सरकार ने कई जरूरी कदम उठाए हैं. इस दौरान सभी मंदिरों के कपाटों को भक्तों के लिए बंद कर दिया गया है. इस बीच में ये संत भक्तो और भगवान के बीच बैठकर मंत्रो का जाप कर रहे है. यहां के संतों का कहना है कि भारत से इस बीमारी के नाश के लिए वो लगातार प्रार्थना, मंत्रोचारण करते रहेंगे.



मध्य प्रदेश के इंदौर शहर की हालत खराब
मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण के मामले लगातार सामने आ रहे हैं. सोमवार तक इसके 652 केस सामने आ चुके हैं, जबकि यहां 50 लोगों की इस खतरनाक संक्रमण के कारण मौत हो चुकी है. मिनी मुंबई के तौर पर मशहूर इंदौर शहर में सबसे ज्यादा मामले सामने आये हैं. यहां 362 कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं. इनमें से 35 की मौत हो चुकी है, जबकि 39 मरीज़ पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर वापस लौट चुके हैं.

ये भी पढ़ें:

लापरवाही की हद, Corona पॉजिटिव दो नर्सें गर्भवती महिला के ऑपरेशन में शामिल

इंटेलिजेंस ने ADG, IG और SP को दिए सख्त निर्देश, कहा- यदि लापरवाही से हुआ...

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज