शौचालय निर्माण योजना में घोटाला, कैसे स्वच्छ होगा भारत

Vijay tiwari | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: August 12, 2017, 1:37 PM IST
शौचालय निर्माण योजना में घोटाला, कैसे स्वच्छ होगा भारत
मध्य प्रदेश के आदिवासी बाहुल्य मंडला जिले के घुघरी जनपद पंचायत अंतर्गत किसली ग्रामपंचायत में शौचालय निर्माण एवं रोजगार गारंटी योजना में जमकर भ्रष्टाचार किए जाने का मामला सामने आया है.
Vijay tiwari | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: August 12, 2017, 1:37 PM IST
मध्य प्रदेश के आदिवासी बाहुल्य मंडला जिले के घुघरी जनपद पंचायत अंतर्गत किसली ग्रामपंचायत में शौचालय निर्माण एवं रोजगार गारंटी योजना में जमकर भ्रष्टाचार किए जाने का मामला सामने आया है. आरोप है कि सरकारी दस्तावेजों में शौचालय निर्माण पूर्ण दर्शाकर शौचालय निर्माण की राशि का बंदरबांट कर लिया गया है बताया जाता है कि सरपंच सचिव ने जनपद के अधिकारियों से मिलीभगत कर इस फर्ज़ीवाड़े को अंजाम दिया है.

भ्रष्टाचार की भेंट चढ़े शौचालय निर्माण की सामग्री कबाड़ में तब्दील हो चुका है. कुछ ग्रामीणों ने शौचालयों से दरवाजे उखाड़कर अपने मकानों में लगा लिए हैं वहीं जवाबदारों की लापरवाही के चलते इस ग्रामपंचायत में महात्मा गांधी रोजगार गारंटी योजना भी दम तोडती नजर आ रही है. ग्रामीणों ने कोरे जॉब कार्ड दिखाते हुए बतलाया कि उन्हें सालों से योजना का लाभ नहीं मिला है.

हैरत की बात तो यह है कि किसली ग्रामपंचायत जनपद अध्यक्ष कौशल्या मरावी का गृहग्राम है. जनपद अध्यक्ष के गृहग्राम में शौचालय निर्माण में इस कदर भ्रष्टाचार और गांव के लोगों को रोजगार गारंटी योजना जैसे महत्वाकांक्षी योजना का लाभ नहीं मिल पाना अध्यक्ष की काबिलियत और कार्यप्रणाली पर प्रश्नचिन्ह खड़ा करता है.

जनपद अध्यक्ष के गृहग्राम में हुए शौचालय निर्माण में फर्ज़ीवाड़े और रोजगार गारंटी योजना में चल रही धांधली के मामले में जनपद के मुख्य कार्यपालन अधिकारी आयुष अग्रवाल कुछ भी कहने से बचते नजर आ रहे हैं वहीं जिलापंचायत के उपाध्यक्ष शैलेश मिश्रा ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए जांच के बाद दोषियों के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही का भरोसा जताया है.
First published: August 12, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर