OMG: ये आपको हूबहू बना देंगे मिट्टी का, इनसे विदेशों से लोग आते हैं सीखने

मंडला जिले के मशहूर मिट्टी कलाकार बलराम चक्रवर्ती का जलवा न सिर्फ भारत में बल्कि विदेशों तक पहुँच गया है

Vijay tiwari | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: January 14, 2018, 8:51 PM IST
OMG: ये आपको हूबहू बना देंगे मिट्टी का, इनसे विदेशों से लोग आते हैं सीखने
मंडला जिले के मशहूर मिट्टी कलाकार बलराम चक्रवर्ती का जलवा न सिर्फ भारत में बल्कि विदेशों तक पहुँच गया है
Vijay tiwari | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: January 14, 2018, 8:51 PM IST
मध्य प्रदेश के आदिवासी बाहुल्य मंडला जिले के मशहूर मिट्टी कलाकार बलराम चक्रवर्ती का जलवा न सिर्फ भारत में बल्कि विदेशों तक पहुँच गया है.

दरअसल, मिट्टी की कलाकारी सीखने अब बलराम के पास विदेशी पहुँचने लगे हैं. बीते दिनों इजरायल से तीन विदेशी नागरिकों ने बलराम से दो दिनों तक कला की बारीकियां समझी और सीखने का प्रयास किया है. विदेशियों को मिट्टी की कलाकारी के गुर सिखाने के बाद बलराम फूले नहीं समा रहा हैं, वहीँ स्थानीय प्रशासन से मान सम्मान नहीं मिलने से वो अंदर ही अंदर दुखी भी नजर आ रहे हैं.

जिला मुख्यालय से लगे उपनगर महराजपुर निवासी बलराम चक्रवर्ती अपने घर इजरायल मूल के तीन विदेशियों के पहुँचते ही चौंक गए, फिर जब विदेशियों ने बताया कि वो उनसे मिट्टी की कला सीखने पहुंचे हैं तो बलराम का सर फक्र से ऊपर उठ गया और उन्होंने दो दिनों तक विदेशी मेहमानों को मिट्टी के कलाकारी की बारीकियां सिखाई.

इजरायल से आए लिली और उनकी पत्नी एतमा अपने पुराने दोस्त उत्तराखंड निवासी हितेश भट्ट और उनकी रोमनियाई मूल की पत्नी कतलीना पावेल के साथ पहुंचे थे, जिन्होने मिट्टी कलाकार बलराम से मिटटी के कला की बारीकियां सीखी है.

विदेशी मेहमानों के साथ बलराम चक्रवर्ती


बलराम बताते हैं कि दो दिनों तक मिट्टी की कलाकारी सीखने के बदले उन्हें ये विदेशी कुछ रूपये दे रहे थे लेकिन बलराम ने विदेशियों से रूपये लेने से इंकार कर दिया.

मिटटी कलाकार बलराम चक्रवर्ती की कला से प्रभावित होकर मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ राज्य सहित अन्य प्रदेशों की सरकारों ने सम्मानित किया है. बलराम मिट्टी की कला में इतना माहिर है कि वो किसी भी चीज को हूबहू मिट्टी से बना सकते हैं, लेकिन मंडला जिले में मान-सम्मान नहीं मिलने से वो काफी दुखी नजर आते हैं.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर