गौ-शाला का ऐसा है हाल, गौ-माता के ना सिर पर छांव ना टंकी में पानी

शहर की एकमात्र गोपाल कृष्ण गौशाला में गर्मी के कारण गायों की हालत खराब हो रही है. उचित रखरखाव ना होने के कारण और बीमारी के कारण वो दम तोड़ रही हैं.

Narendra Dhanotiya | News18 Madhya Pradesh
Updated: June 3, 2019, 11:38 AM IST
गौ-शाला का ऐसा है हाल, गौ-माता के ना सिर पर छांव ना टंकी में पानी
गौ-शाला
Narendra Dhanotiya
Narendra Dhanotiya | News18 Madhya Pradesh
Updated: June 3, 2019, 11:38 AM IST
कमलनाथ ने सीएम बनते ही निर्देश दिया था कि गौ-माता सड़कों पर आवारा-बेसहारा घूमती नज़र नहीं आना चाहिए. वरना कार्रवाई होगी. सीएम की ये चेतावनी बेअसर है. सड़कों का हाल तो छोड़िए, गौ-शाला में भी गाय की दुर्दशा है. तपती गर्मी में ना उनके लिए पर्याप्त शेड हैं और ना ही चारे की व्यवस्था.पानी के लिए टंकिया तो हैं लेकिन खाली पड़ी है. बीमार हो जाएं तो वहीं पड़े-पड़े दम तोड़ देती हैं.इलाज की माकूल व्यवस्था नहीं है.
मंदसौर में इन दिनों भीषण गर्मी पड़ रही है और पारा 45 डिग्री से ऊपर जा रहा है. यहां पर इंसानों का तो ठीक जानवरों का भी जीना दूभर हो गया है. शहर की एकमात्र गोपाल कृष्ण गौशाला में गर्मी के कारण गायों की हालत खराब हो रही है. उचित रखरखाव ना होने के कारण और बीमारी के कारण वो दम तोड़ रही हैं.
मंदसौर की गोपाल कृष्ण गौशाला जिसके पास गायों के प्रबंधन के लिए करोड़ों रुपए का बजट है. उसे सरकार से लाखों रुपयों का अनुदान भी मिलता है. गौशाला की खुद की लगभग 400 बीघा ज़मीन है जिस पर गायों के लिए हरा चारा उगाया जा सकता है. लेकिन गौशाला प्रबंधन ने चारा उगाने के बजाए सारी ज़मीन लीज पर दे दी है. गौ माता चिलचिलाती धूप में खुले आसमान के नीचे दिन भर खड़ी रहती हैं. इनके शेड की कोई व्यवस्था नहीं है.
ना छांव ना पानी-इस भीषण गर्मी में उनके लिए पीने के पानी का भी इंतज़ाम नहीं है. टैंक तो बने हुए हैं लेकिन उनमें पानी नहीं है. गाय दिन भर इस टैंक में पानी की आस में आती हैं, लेकिन बेबस होकर रह जाती हैं.

चारा भी सूखा - चारा इतना बड़ा मोटा कि इसे हाथी भी नहीं खा पाए. ये चारा भी सूखा दिया जा रहा है.जो गाय खा भी नहीं पा रही हैं.गायों को न उचित खानपान मिल रहा है और ना ही पीने के लिए पानी मिल रहा है और तो और गर्मी के मारे गौ माता बीमार हो रही हैं. उनके इलाज का भी कोई प्रबंध यहां पर नहीं दिख रहा है.मंदसौर के युवा समाजसेवी ओम बड़ोदिया ने जब न्यूज़ 18 को बताया कि गोपाल कृष्ण गौशाला में गौ माता की हालत खराब हो रही है.प्रतिदिन गौमाता वहां पर दम तोड़ रही हैं.
दम तोड़ रही हैं गौ-माता - न्यूज़ 18 की टीम के सामने ही 6 गाय वहां पर दम तोड़ चुकी थीं और पास में जो बीमार गौमाता थी वो भी दम तोड़ने वाली थीं.उनकी भी सांसें अटक रही थीं. मौके पर न तो कोई गौशाला का प्रबंधक मौजूद था और ना ही वहां पर कोई डॉक्टर मौजूद था.
ठीक इसी तरह गोपाल कृष्ण गौशाला की दूसरी शाखा नौलखा बीड़ पर भी ऐसी हालत थी. एक गौ माता कीचड़ में फंसी हुई थी जो खड़ी नहीं हो पा रही थी. गौ माता को उठा कर बाहर निकाला. गायों के बछड़े दम तोड़ते नजर आ रहे थे.
Loading...

शिवराज सरकार के दौरान ये गौशाला खोली गयीं थी. लेकिन व्यवस्था ठीक ना होने के कारण गायों की दुर्दशा होती आ रही है.

ये भी पढ़ें-EXCLUSIVE: मंत्रियों-MLA की जासूसी करा रही कमलनाथ सरकार!

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

LIVE कवरेज देखने के लिए क्लिक करें न्यूज18 मध्य प्रदेशछत्तीसगढ़ लाइव टीवी


First published: June 3, 2019, 11:35 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...