बेटी ने घर से भागकर की शादी, नाराज़ पिता ने शोक संदेश छपवाकर कराया मृत्यु भोज

अपनी मर्जी से प्रेमी के साथ कोर्ट मैरिज करने वाली युवती को जब उसके पिता समझाने गए तो उसने उन्हें पहचानने से इनकार कर दिया. इससे आहत हुए पिता ने निमंत्रण देकर उसका मृत्यु भोज करा डाला.

News18 Madhya Pradesh
Updated: August 3, 2019, 11:51 AM IST
बेटी ने घर से भागकर की शादी, नाराज़ पिता ने शोक संदेश छपवाकर कराया मृत्यु भोज
बेटी ने घर से भागकर की शादी, नाराज पिता ने बाकायदा शोक संदेश छपवाकर करवाया मृत्यु भोज (सांकेतिक तस्वीर)
News18 Madhya Pradesh
Updated: August 3, 2019, 11:51 AM IST
मध्य प्रदेश के मंदसौर जिले में एक पिता के बेटी के जीवित रहते उसके नाम का मृत्यु भोज रखने का हैरान करने वाला मामला सामने आया है. दरअसल, युवती ने घर से भागकर परिवार की मर्जी के खिलाफ शादी कर ली थी. पिता जब बेटी को समझाने गए तो उसने उन्हें पहचानने से इनकार कर दिया. इसके बाद गुस्से में लाल पिता ने भी बेटी को मृत मानकर उसका मृत्यु भोज रखा.

लव मैरिज के बाद बेटी ने पिता को पहचानने से किया इनकार

जब यह मामला थाने पहुंचा तो वहां भी बेटी ने अपने पिता को पहचानने से इनकार कर दिया. युवती ने पुलिसवालों से कहा कि वो इस आदमी को नहीं जानती है.

कोर्ट मैरिज-court marriage
इस तरह परवान चढ़ा प्यार कि भूल गई पिता को.. (सांकेतिक तस्वीर)


इस तरह परवान चढ़ा प्यार कि भूल गई पिता को..

मिली जानकारी के मुताबिक जिले के कुचदौड़ गांव में रहनी वाली 19 साल की लड़की का पास के ही गांव के एक युवक से प्रेम संबंध था. दोनों क्लास 6 से एक-दूसरे को जानते हैं. लड़के का अक्सर युवती के यहां आना-जाना था. इस बीच दोनों में प्यार हो गया और एक दिन दोनों ने गुपचुप तरीके से किसी को बताए बिना घर से भागकर शादी कर ली. जब इस मामले की रिपोर्ट थाने में की गई, तो युवती अपने पति के साथ थाने पहुंची. यहां पिता ने अपनी बेटी को देखकर उसे समझाने-बुझाने की कोशिश की तो वो बोल पड़ी- मैं नहीं जानती ये कौन हैं.

शोक संदेश छपवाकर मृत्यु भोज का दिया आमंत्रण
Loading...

बेटी की इस हरकत से आहत पिता ने भी उससे सारे रिश्ते तोड़ लिए. उन्होंने बेटी को मृत समझकर उसका मृत्यु भोज आयोजन करने की ठान ली. नाराज़ पिता ने बाकायदा शोक संदेश छपवाकर अपने रिश्तेदारों और संबंधियों को मृत्यु भोज के लिए बुलाया.

साथ पढ़ने वाले युवक से की कोर्ट मैरिज

इधर, परिवार से जुड़े लोगों का कहना है कि बेटी ने एक पिता के दर्द को नहीं समझा. 19 साल की बेटी ने परिवार के खिलाफ कक्षा 6 से साथ-साथ पढ़ने वाले युवक से कोर्ट मैरिज कर ली. पिता और घर के बाकी लोगों ने उसे काफी समझाया, लेकिन लड़की ने एक न सुनी.

ये भी पढ़ें:- उन्नाव का पीड़ित परिवार MP में बसे,हम देंगे सुरक्षा: कमलनाथ 

5 साल की शिविका टाइगर की दीवानी, देखे हैं देशभर के बाघ
First published: August 3, 2019, 10:12 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...