Assembly Banner 2021

पीडीएस दुकानों की बजाए अधिकारियों ने मंडी व्यापारियों को नीलाम कर दिया प्याज

मध्यप्रदेश के मंदसौर जिले में नागरिक आपूर्ति विभाग के अधिकारी ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के आदेशों को हवा में उड़ाने में लगे हैं.

मध्यप्रदेश के मंदसौर जिले में नागरिक आपूर्ति विभाग के अधिकारी ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के आदेशों को हवा में उड़ाने में लगे हैं.

मध्यप्रदेश के मंदसौर जिले में नागरिक आपूर्ति विभाग के अधिकारी ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के आदेशों को हवा में उड़ाने में लगे हैं.

  • Share this:
मध्यप्रदेश के मंदसौर जिले में नागरिक आपूर्ति विभाग के अधिकारी ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के आदेशों को हवा में उड़ाने में लगे हैं. बंपर उत्पादन के चलते सीएम ने पिछले दिनों हर जिले में किसानों से समर्थन मूल्य पर प्याज की खरीदी कर उसे राशन की दुकानों के जरिए आम लोगों को देने की घोषणा तो की, लेकिन मन्दसौर जिले में अधिकारी इस प्याज को राशन की दुकानों पर बेचने के बजाए मंडी में ही व्यापारियों को दोबारा नीलाम कर रहे हैं.

जानकारी के अनुसार सीएम चौहान ने पिछले दिनों हर जिले में किसानों से 8 रुपए किलो के समर्थन मूल्य पर प्याज की खरीदी कर उसे राशन दुकानों के जरिए आम लोगों को 2 रुपए के भाव में देने की घोषणा की थी. लेकिन कई जिलों में मु्ख्यमंत्री का आदेश हवा में उड़ता नजर आ रहा है. मंदसौर जिले में भी नागरिक आपूर्ति विभाग ने 5 सेंटर बनाकर करीब 25 हजार 133 क्विंटल प्याज की बंपर खरीदी की. लेकिन अधिकारी इस प्याज को राशन की दुकानों पर बेचने के बजाए मंडी में ही व्यापारियों को दोबारा नीलाम कर रहे हैं. नागरिक आपूर्ति विभाग ने यहां 250 टन प्याज महज तीन रुपए 75 पैसे प्रति किलो और 353 टन प्याज तीन रुपए 51 पैसे किलो के दाम पर व्यापारियों को बेच दिया.

खास बात यह है कि जिले में बाकी बचा 19 हजार क्विंटल प्याज भी धीरे—धीरे खराब होने लगा है. लिहाजा अधिकारी इसकी व्यापारियों को बिक्री के लिए, दलालों से बातचीत कर रहे हैं. उधर सीएम की घोषणा के बावजूद खरीदा गया प्याज राशन की दुकानों पर 2 रुपए के भाव से नहीं मिलने से लोगों को आज भी बाजार में 10 से 12 रुपए किलो के भाव से खरीदना पड़ रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज