लाइव टीवी

मंदसौर: खराब समय से मुक्ति दिलाता है ये मंदिर, चढ़ानी पड़ती है खास चीज़

Narendra Dhanotiya | News18 Madhya Pradesh
Updated: October 21, 2019, 2:07 PM IST
मंदसौर: खराब समय से मुक्ति दिलाता है ये मंदिर, चढ़ानी पड़ती है खास चीज़
मंदसौर के इस मंदिर में मन्नत मांगने से चला जाता है खराब समय

एक ऐसा मंदिर (Temple) जहां पर किसी का समय खराब आ जाए तो मंदिर में मन्नत (Vow) मांगने से समय ठीक हो जाता है. मन्नत पूरी होने पर चढ़ानी पड़ती है घड़ी (Watch), खास बात यह है कि मंदिर में ना भगवान की मूर्ति है ना पुजारी फिर भी यहां पर हजारों लोगों की श्रद्धा है.

  • Share this:
मंदसौर. मध्य प्रदेश के मंदसौर (Mandsaur) जिले के चिरमोलिया में सड़क किनारे बना हुआ यह मंदिर (Temple) कोई साधारण मंदिर नहीं है. एक वटवृक्ष के नीचे छोटा सा मंदिर बना हुआ है और यहां लगी है असंख्य घड़ियां, मंदिर में ना किसी भगवान की मूर्ति है ना यहां कोई पुजारी है, फिर भी यहां पर लगातार श्रद्धालुओं (devotee) का आना जाना लगा रहता है. गांव वाले और यहां पर आने वाले श्रद्धालु इसे 'सगस बावजी का मंदिर' कहते हैं. सगस बावजी को शास्त्रों में यक्ष (Yaksh) कहा गया है. बताया जाता है कि यहां पर यक्ष साक्षात रूप में दिखाई देते हैं.

लोगों को दर्शन देते हैं यक्ष
मान्यता है कि वो कई रूपों में यहां पर आते हैं और दर्शन देते हैं, यहां तक की रास्ता भटक गए लोगों को भी साथ में जाकर रास्ता दिखाते हैं और घर तक छोड़ कर आते हैं. कई लोगों का दावा है कि उन्होंने यहां पर साक्षात रूप में चमत्कार देखे हैं. इस मंदिर के बारे में मान्यता है कि जब किसी व्यक्ति का समय खराब आ जाता है तो यहां पर वह व्यक्ति मन्नत लेने आता है मन्नत पूरी होने पर यहां पर वह घड़ी चढ़ाता है. मंदिर में अभी तक हजारों लोग घड़ियां चढ़ा चुके हैं. यहां पर चढ़ाई गई घड़ियां लोग नदी में प्रवाहित कर देते हैं.

News - इस मंदिर में मन्नत पूरी होने के बाद घड़ियां चढ़ाई जाती हैं.
इस मंदिर में मन्नत पूरी होने के बाद घड़ियां चढ़ाई जाती हैं.


यहां की घड़ियां कोई नहीं चुराता
वैसे तो यह मंदिर सैकड़ों साल पुराना है. पहले यहां पर सगस बावजी एक चबूतरे पर बैठते थे. लोगों ने अब यहां पर एक मंदिर बनवा दिया है. एक भक्त ने तो मन्नत पूरी होने पर यहां पर आने वाले श्रद्धालुओं के लिए हैंडपंप भी लगा दिया है. खास बात यह है कि इस मंदिर में ताला भी नहीं लगता है साथ ही यहां की चढ़ाई हुई घड़िया भी कोई चुराता नहीं है. एक पुरानी कहानी है कि एक बार कोई व्यक्ति यहां से घड़ी चुरा कर ले गया था, वो घर जाकर अंधा हो गया. फिर उसने किसी को बताया कि सगस बावजी के मंदिर से 5 घड़ियां उठा कर लाया हूं. बदले में घड़ी चोरी करने वाले को यहां पर 10 घड़ी चढ़ानी पड़ी, तब जाकर उसकी आंखों की रोशनी वापस आई.

News - लोगों की मान्यता है कि यक्ष देव तुरंत मान्यता पूरी करते हैं
लोगों की मान्यता है कि यक्ष देव तुरंत मान्यता पूरी करते हैं

Loading...

त्वरित समाधान करते हैं यक्ष
यहां आने वाले श्रद्धालुओं का न सिर्फ समय ठीक हो जाता है बल्कि यहां आने वाले लोगों को की कई प्रकार की मन्नतें भी पूरी होती हैं. निसंतान महिलाओं को यहां संतान प्राप्त होती है. खोई चीज भी यहां मन्नत मांगने से मिल जाती है. यहां मन्नत मांगने से कई प्रकार की परेशानियों से भी छुटकारा मिल जाता है. बताया जाता है कि यक्ष किसी भी समस्या का समाधान तुरंत करते हैं इसीलिए लोग अपनी समस्या के त्वरित समाधान और बिगड़े समय को अच्छे में बदलने के लिए यहां पर मन्नत मांगने आते हैं और यक्ष भगवान जिन्हें लोग यहां पर सगस बावजी के नाम से जानते हैं लोगों की मनोकामना भी तुरंत पूरी करते हैं.

ये भी पढ़ें -
श्योपुर: युवक ने पत्नी को छोड़ा तो महापंचायत ने सुनाया ये फरमान
MP: शहीदों के परिजनों से प्रशासन की बेरुखी, न पेंशन मिली, ना 1 करोड़ की सम्मान राशि

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मंदसौर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 21, 2019, 2:06 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...