ग्रामीणों ने SI पर लगाया फर्जी केस दर्ज करने का आरोप, SP ने किया लाइन अटैच
Mandsaur News in Hindi

ग्रामीणों ने SI पर लगाया फर्जी केस दर्ज करने का आरोप, SP ने किया लाइन अटैच
एसपी ऑफिस पहुंचे ग्रामीण. इनसेट- एसआई गोपालसिंह गुणावद.

परिजन और ग्रामीणों का कहना था कि पूर्व सरपंच भारत सिंह के पास न तो कोई मादक पदार्थ था, न ही डोडाचूरा था. सब इंस्पेक्टर ने अवैध वसूली की नीयत से भारत सिंह को गिरफ्तार किया और परिजन से 25 लाख रुपए की मांग करने लगे.

  • Share this:
मध्‍यप्रदेश के मंदसौर में मादक पदार्थ अफीम और डोडाचूरा की तस्करी का फर्जी मामला बनाने को लेकर लोगों ने एसपी ऑफिस के बाहर जमकर हंगामा किया. लोगों ने सिटी कोतवाली के सब इंस्पेक्टर गोपाल सिंह गुणावद पर फर्जी मामला बनाने का आरोप लगाया और उन्‍हें बर्खास्त करने की मांग की. ग्रामीणों के आक्रोश को देखते हुए एसपी ने आरोपी सब इंस्पेक्टर को लाइन अटैच कर दिया है.

जिले के राजाखेड़ी गांव के लोगों का आरोप है कि सिटी कोतवाली के सब इंस्पेक्टर गोपाल सिंह गुणावद ने फर्जी मामले में गांव के पूर्व सरपंच भारत सिंह को फंसा दिया है. पहले तो सब इंस्पेक्टर ने पूर्व सरपंच को उनके नयाखेड़ा कार्यालय से गिरफ्तार किया. उसके बाद उनकी गाड़ी में ढाई क्विंटल डोडाचूरा रख दिया. लोगों का कहना है कि भारत सिंह के पास न तो कोई  मादक पदार्थ था और न ही डोडाचूरा था. सब इंस्पेक्टर गोपाल सिंह ने अवैध वसूली की नीयत से पूर्व सरपंच को गिरफ्तार किया और परिजन से 25 लाख रुपए की मांग करने लगे.

परिजनों के साथ आए भाजपा के मंडल अध्यक्ष ने भी ग्रामीणों की बात का समर्थन किया. ग्रामीणों ने चेतावनी दी है कि अगर 3 दिन के अंदर जांच पूरी कर भारत सिंह को नहीं छोड़ा गया तो वे चक्काजाम करेंगे और इसकी पूरी जवाबदारी पुलिस प्रशासन की होगी.



वहीं इस मामले में पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार सिंह ने आरोपी सब इंस्पेक्टर गोपाल सिंह गुणावद को लाइन हाजिर कर दिया. इसके साथ ही मामले की जांच की कमान एएसपी राकेश मोहन शुक्ला को सौंपी दी है.
ये भी पढ़ें- मंदसौर : लूट की रिपोर्ट लिखने में कोताही बरतने पर टीआई निलंबित

ये भी देखें - VIDEO: मंदसौर पुलिस के हत्थे चढ़ी दो महिला चोर, ऐसे करती थीं चोरी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज