शिवना नदी ने किया पशुपतिनाथ का अभिषेक, मूर्ति के आंठों मुख जलमग्न

धान मंडी ,पतासा गली ,खानपुरा नयापुरा रोड, भारत माता चौराहा, बस स्टैंड जिला चिकित्सालय सहित कई इलाकों में बाढ़ का पानी घुसा हुआ है. प्रशासन ने राहत कार्य शुरू कर दिए हैं.

Narendra Dhanotiya | News18 Madhya Pradesh
Updated: August 16, 2019, 10:18 AM IST
शिवना नदी ने किया पशुपतिनाथ का अभिषेक, मूर्ति के आंठों मुख जलमग्न
पशुपतिनाथ की मूर्ति पानी में समायी
Narendra Dhanotiya
Narendra Dhanotiya | News18 Madhya Pradesh
Updated: August 16, 2019, 10:18 AM IST
पूरे मध्य प्रदेश सहित मंदसौर में भी मूसलाधार बारिश के कारण हर तरफ पानी ही पानी है. शिवना इस कदर उफान पर है कि यहां के प्रसिद्ध पशुपतिनाथ मंदिर की अष्टमुखी मूर्ति पूरी पानी में डूब गयी है. मूर्ति के आंखों मुख को पानी ने अपने में समा लिया है. अब सिर्फ शिव का त्रिशूल दिखाई दे रहा है.
रातभर हुई बारिश
रातभर हुई तेज बारिश के कारण पूरा मंदसौर तो पानी से तरबतर है ही, पशुपतिनाथ मंदिर भी पानी भर गया है. ये मंदिर शिवना नदी के तट पर बसा है. नदी उफान पर आने के कारण दो दिन पहले ही पानी मंदिर के गर्भगृह में आ गया था और मूर्ति के चार मुख जलमग्न हो गए थे. आज मंदिर में इतना पानी भर गया कि पूरी मूर्ति जलमग्न हो गयी. भगवान पशुपतिनाथ के आठों मुख जलमग्न हो गए. अब सिर्फ मूर्ति का थोड़ा-सा ऊपरी हिस्सा और त्रिशूल ही दिखाई दे रहा है.


डैम के 8 गेट खोले
मंदसौर की कई निचली बस्तियों में भी हालात खराब हैं. कई बस्तियां खाली करा ली गयी हैं. यहां रहने वाले लोगों को राहत शिविरों में भेजा गया है. बाढ़ से जनजीवन अस्त-व्यस्त है. काला भाटा स्थित अटल सागर बांध के छह गेट 8 फीट तक खोल दिए गए हैं. रेतम बेराज गाडगिल सागर के गेट भी खोलने पड़े. प्रशासन ने अलर्ट जारी किया है.
पानी में डूबी बस्तियां
Loading...

मंदसौर शहर की कई निचली बस्तियों में पानी भर गया है. धान मंडी ,पतासा गली ,खानपुरा नयापुरा रोड, भारत माता चौराहा, बस स्टैंड जिला चिकित्सालय सहित कई इलाकों में बाढ़ का पानी घुसा हुआ है. प्रशासन ने राहत कार्य शुरू कर दिए हैं.

ये भी पढ़ें-मूसलाधार बारिश में भीग गए भगवान पशुपतिनाथ

MP: भारी पड़ सकते हैं अगले 2 दिन, तेज बारिश का अलर्ट जारी
First published: August 16, 2019, 9:03 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...