लाइव टीवी

होटलों-ढाबों तक पहुंचा शुद्ध के लिए युद्ध अभियान, MP की सड़कों पर दौड़ रही मोबाइल फूड लैब
Bhopal News in Hindi

Jitender Sharma | News18 Madhya Pradesh
Updated: January 25, 2020, 3:01 PM IST
होटलों-ढाबों तक पहुंचा शुद्ध के लिए युद्ध अभियान, MP की सड़कों पर दौड़ रही मोबाइल फूड लैब
शुद्ध के लिए युद्ध अभियान के तहत अब मौके पर जाकर जांच करेगी लैब

एमपी में चल रहे 'शुद्ध के लिए युद्ध' (War for Purity) अभियान की कार्रवाई मिलावट खोरों के कारखानों से शुरू होकर अब हाईवे के ढाबों तक जा पहुंची है. इसके लिए भोपाल शहर में ऑन रोड फूड लैब (On Road Food Lab) दौड़ रही है.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश में चल रहा शुद्ध के लिए युद्ध अभियान अब त्वरित हो गया है. शुद्धता की जांच के लिए नई चलित प्रयोगशाला अब सीधे मिलावट खोरों (Adulteration) तक पहुंच रही है. यह मोबाइल फूड लैब (Mobile food Lab) रोजाना शहर के अलग-अलग हिस्सों में जाती है जहां ये रेस्टोरेंट, होटल, स्वीट्स शॉप, हाईवे के ढाबों तक पहुंचकर मिलावटी सामान की जांच की जा रही है. मिलावट मिलने पर ऑन द स्पॉट कार्रवाई भी की जा रही है, साथ ही सेम्पल (Sample) कलेक्ट करके जांच (testing) के लिए जमा भी कर रहे हैं.

रोज़ाना 30 से ज्यादा स्थानों पर जा रही मोबाइल फूड लैब
टीम रोजाना 30 से ज्यादा स्थानों पर जाकर मिलावट की जांच कर रही है, जिसमे भोपाल के पिपलानी इलाके में लगभग 26 जगहों के खाद्य पदार्थों में मिलावट की जांच की गई, जिसके बाद खाद्य सुरक्षा अधिकारियों और प्रयोगशाला के तकनीशियनों ने मौके पर ही 32 खाद्य पदार्थों की जांच से उपभोक्ताओं को अवगत कराया. इस मोबाइल फ़ूड लैब से 300 से अधिक खाद्य सामग्रियों की जांच की गई

मिल्क प्रॉडक्ट और दूध डेयरी पर भी कार्रवाई

मोबाईल फूड लैब की कार्रवाई दूध डेयरियों पर भी जारी है, जिसमें दूध के सैंपल में फैट कम होने से उन्हें अमानक घोषित किया जा रहा है. सभी को खाद्य सुरक्षा मानक अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर नोटिस जारी किए जा रहे हैं.

ढाबों पर पहुंची मोबाइल फूड लैब
मोबाइल फूड लैब के अधिकारी हाईवे के कई ढाबों पर भी पहुंचे, जहां उन्होंने पहले खाने का ऑर्डर दिया उसके बाद खाना टेस्ट किया और मिलावट की जांच की. जिसके बाद ढाबे पर बनने वाले भोजन की भी जांच की गई. सीहोर रोड स्थित 3 ढाबों के किचन में तैयार हो रहे खाने और खाद्य सामग्रियों की जांच की गई. यहां से घी, मिर्च पाउडर, आटा और तेल के सैंपल भी लिए गए. टीम को हाइवे रोड पर चलने वाले ढाबों पर मिलावटी घी, तेल, मसाले का उपयोग कर खाना परोसने की शिकायत मिल रही थी. ढाबों में तैयार सब्जी, मैदा, मसाले, घी, तेल, फ्रूट कॉकटेल, पेस्ट्री आदि के नमूने खाद्य सुरक्षा और मानक अधिनियम, 2006 के तहत लिए गए. सभी सैंपलों को जांच के लिए राज्य खाद्य परीक्षण प्रयोगशाला भेजा गया.ये भी पढ़ें -
Exclusive: व्यापमं महाघोटाले में अब तक 13 FIR दर्ज, आगे होगी 87 और नई FIR
सागर में युवक को ज़िंदा जलाने के विरोध में बीजेपी का आज फिर प्रदेश व्यापी आंदोलन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 25, 2020, 3:00 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर