लाइव टीवी

मुरैना में भोज का प्रकोप: व्‍यापक पैमाने पर थर्मल स्क्रीनिंग, हजारों लोग किए गए होम आइसोलेट
Morena News in Hindi

Dushyant Sikarwar | News18 Madhya Pradesh
Updated: April 6, 2020, 3:03 PM IST
मुरैना में भोज का प्रकोप: व्‍यापक पैमाने पर थर्मल स्क्रीनिंग, हजारों लोग किए गए होम आइसोलेट
जानकारी के अनुसार, सुरेश बरैठा नामक ये युवक दुबई के एक होटल में वेटर का काम करता था, जो 17 मार्च को वहां से मुरैना लौटा था.

Corona Alert: मध्य प्रदेश (MP) के मुरैना जिले में अभी तक 12 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले है. ये सारे संक्रमित मरीज एक ही परिवार से हैं.

  • Share this:
मुरैना. मध्य प्रदेश (MP) के मुरैना जिले में अभी तक 12 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले है. ये सारे संक्रमित मरीज एक ही परिवार से हैं. इन्हें मिलाकर मुरैना में अब तक 55236 लोगों की थर्मल स्कैनिंग हो चुकी है. इसके अलावा 27821 लोगों को उनके घरों में आइसोलेट किया गया है. यहां कोरोना की जांच के 60 सैंपल लिए गए. इनमें से 12 लोगों को कोरोना से संक्रमित होने की पुष्टि हो चुकी है. 30 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई है. रविवार को भी जांच के लिए 24 सैंपल भेजे गए हैं.

एक ही परिवार के सभी केस
दरअसल, इस परिवार का एक युवक दुबई (Dubai) से वापस लौटा था. विदेश से लौटने वाले इस युवक का परिवार यहां के प्रेम नगर के वार्ड नंबर 47 में रहता है. इसके संपर्क में आने के कारण परिवार के 12 लोगों के कोरोना से संक्रमित होने की पुष्टि हो चुकी है. इसके अलावा परिवार के 20 अन्य लोगों की जांच रिपोर्ट अब तक नहीं आई है.

जानकारी के अनुसार, सुरेश बरैठा नामक ये युवक दुबई के एक होटल में वेटर का काम करता था, जो 17 मार्च को वहां से लौटा था. इसके परिवार में दादी की 20 मार्च को त्रयोदशी थी. इस कार्यक्रम में एक हजार से ज्यादा लोग पहुंचे थे. इतने बड़े कार्यक्रम के आयोजन की जानकारी प्रशासनिक अधिकारियों को भी नहीं थी. लेकिन ये मामला सामने आने के बाद प्रशासन ने तत्काल जरूरी कदम उठाना शुरू कर दिया.



मरीज जिला अस्पताल के आइसोलेट वार्ड में भर्ती


इन मरीजों को मुरैना के जिला अस्पताल के आइसोलेट वार्ड में भर्ती कराया गया है. इन मरीजों में दो महिलाएं, जिनकी उम्र 30 - 35 वर्ष है और एक 6 साल का बच्चा और 9 पुरुष शामिल हैं. इनकी हालात अभी खतरे से बाहर बताई जा रही है. अन्य संदिग्ध मरीजो को क्‍वारंटाइन वार्ड में शिफ्ट किया गया है.

प्रशासन से हुई बड़ी चूक
कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते पूरे देश और हर राज्यों में अलर्ट घोषित किया गया था. लेकिन प्रशासन बाहर से आने वाले लोगों की सही तरीके से जांच नहीं कर रहा था. प्रदेश में वैसे हर उस कार्यक्रम पर रोक लगी थी, जिसमें भीड़ जुटने की आशंका थी. लेकिन प्रशासन इस कार्यक्रम को रोकने में कामयाब नहीं हो पाई. इतना होने के बावजूद अबतक इस मामले में लापरवाही बरतने वालों पर कोई कार्रवाई नहीं हुई है.

लोगों से की गई है ये अपील
इस युवक का कहना है कि दुबई से लौटने के बाद एयरपोर्ट पर हुई जांच के दौरान वो पूरी तरह स्वस्थ था. लेकिन माना जा रहा है कि यहां लौटने के बाद उसने अपनी ट्रैवल हिस्ट्री को छिपा कर रखा. यह मामला सामने आने के बाद जिला प्रशासन लगातार सतर्कता बरत रहा है. प्रशासन ने इस भोज कार्यक्रम में शामिल हुए लोगों की पहचान की है. साथ ही इनकी लिस्ट भी बनाई गई है, जिसे सार्वजनिक किया जा चुका है. प्रशासन ने अपील की है कि जो भी शख्स इनके संपर्क में आया हो वो कोरोना संक्रमण की जांच करा ले. इसके साथ ही यहां के वार्ड नंबर-47 के सभी घरों की जांच की जा रही है.

ये भी पढ़ें:

COVID-19 Update: मध्य प्रदेश में कोरोना मरीज की कुल संख्या 200 हुई, 14 की मौत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मुरैना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 5, 2020, 10:34 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading