MP: हेल्थ मिनिस्टर के गृह जिले में नहीं मिली एम्बुलेंस, ऑक्सीजन के अभाव में मासूम की मौत

परिजनों द्वारा 108 एम्बुलेंस को कॉल किया गया लेकिन एक घंटे बाद भी 108 मरीज को लेने नही पहुंची, इसके बाद परिजन प्राइवेट गाड़ी से मरीज को जिला अस्पताल लेकर रवाना हुए

Dushyant Sikarwar
Updated: June 14, 2018, 2:18 PM IST
MP: हेल्थ मिनिस्टर के गृह जिले में नहीं मिली एम्बुलेंस, ऑक्सीजन के अभाव में मासूम की मौत
फाइल फोटो.
Dushyant Sikarwar
Updated: June 14, 2018, 2:18 PM IST
मध्य प्रदेश के हेल्थ मिनिस्टर रुस्तम सिंह के गृह जिले मुरैना जिले में 108 एम्बुलेंस की लापरवाही के चलते एक मासूम की मौत हो गई. परिजनों का आरोप है कि कॉल करने के एक घंटे बाद भी 108 एम्बुलेंस नही पहुंची. जिससे प्राइवेट गाड़ी में प्रखर को जिला अस्पताल ले जाना पड़ा और रास्ते में उसकी मौत हो गई.

मामला सबलगढ़ इलाके का है, जहां व्यापारी नरेश जाटौला के बेटे प्रखर को देर रात बीमारी के बाद उपस्वास्थ्य केंद्र सबलगढ़ में भर्ती कराया गया, जहां उसकी हालत में सुधार नहीं हुआ तो उसको जिला अस्पताल रेफर किया गया.

यह है देश का अनूठा बैंक, यहां है चने की 6 हजार 807 किस्में संरक्षित

परिजनों द्वारा 108 एम्बुलेंस को कॉल किया गया लेकिन एक घंटे बाद भी 108 मरीज को लेने नही पहुंची, इसके बाद परिजन प्राइवेट गाड़ी से मरीज को जिला अस्पताल लेकर रवाना हुए लेकिन रास्ते मे ऑक्सीजन गाड़ी में ना होने के कारण उसकी मौत हो गई.

परिजनों का कहना है कि अगर 108 एम्बुलेंस होती तो उसमें ऑक्सीजन होता और वह समय से जिला अस्पताल पहुंच जाते जिससे प्रखर की शायद जान बच जाती. वहीं मामले में अधिकारी जांच कर दोषियों पर कार्यवाही की बात कह रहे हैं.

MP: बोलेरो ने बाइक को मारी भीषण टक्कर, पति-पत्नी सहित तीन की मौत
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर