MP By-election: सांची में भाजपा के प्रभुराम चौधरी ने कांग्रेस के मदनलाल को हराया, ये हैं जीत की 3 वजह

साल 2018 में हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के टिकट पर प्रभुराम चौधरी विधानसभा पहुंचे थे, लेकिन बाद में वे भाजपा से जुड़ गए
साल 2018 में हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के टिकट पर प्रभुराम चौधरी विधानसभा पहुंचे थे, लेकिन बाद में वे भाजपा से जुड़ गए

सांची (Sanchi) में कांग्रेस से भाजपा में शामिल हुए प्रभुराम चौधरी (Prabhuram Choudhary) ने मध्यप्रदेश उपचुनाव (Madhya Pradesh By election) में बाज़ी मार ली है. उन्होंने कांग्रेस के मदनलाल चौधरी (Madan Lal Chaudhary) को मात दी है. जानिए उनके जीत की तीन वजह...

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 10, 2020, 4:33 PM IST
  • Share this:
सांची. मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के रायसेन (Raisen) जिले के सांची विधानसभा (Sanchi Assembly) के लिए हुए उपचुनाव (By election) में भाजपा के प्रभुराम चौधरी (Prabhuram Choudhary) जीत गए. उन्होंने कांग्रेस के मदनलाल चौधरी (Madan Lal Chaudhary) को  शिकस्त दी. साल 2018 में हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के टिकट पर प्रभुराम चौधरी विधानसभा पहुंचे थे, लेकिन बाद में वे भाजपा से जुड़ गए. ऐसे में आइए जानते हैं 2.41 लाख मतदाता क्षेत्र वाले आरक्षित सीट सांची में कांग्रेस से भाजपा में शामिल हुए प्रभुराम चौधरी के जीत की 3 वजह-

1. मध्यप्रदेश उपचुनाव की घोषणा के ठीक पहले यहां ताबड़तोड़ 400 करोड़ की लागत से विकास कार्यों का शिलान्यास किया गया, जिसमें सड़कें, स्कूल, कॉलेज बनवाने जैसे कार्य शामिल हैं. इस विकास कार्य के शिलान्यास की वजह से लोगों ने भाजपा उम्मीदवार को वोट दिया.

2. सांची सीट को जीतने के लिए भाजपा ने एड़ी-चोटी का जोर लगाया. इसलिए 9 बार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह, 4 बार ज्योतिरादित्य सिंधिया और 3 बार उमा भारती ने यहां दौरा किया. इससे भी लोग भाजपा प्रत्याशी से जुड़ते चले गए.




3. ग्रामीण क्षेत्रों में पुरुषों के अलावा महिलाओं ने मुख्यमंत्री शिवराज और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चेहरे पर भाजपा को वोट दिया. बातचीत में लोग यही कहते थे कि हम प्रत्याशी को नहीं, बल्कि शिवराज-मोदी को वोट कर रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज