Assembly Banner 2021

अविश्वास प्रस्ताव से डरीं BJP जिपं अध्यक्ष ने सदस्य को किया अगवा, नाती के हत्या का भी आरोप

मुरैना जिला पंचायत अध्यक्ष और भाजपा नेत्री गीता हर्षाना और उनके परिजनों पर आरोप है कि जिला पंचायत सदस्य जगदीश टैगौर का अपहरण कर उसके नाती को गोली मार दी.

मुरैना जिला पंचायत अध्यक्ष और भाजपा नेत्री गीता हर्षाना और उनके परिजनों पर आरोप है कि जिला पंचायत सदस्य जगदीश टैगौर का अपहरण कर उसके नाती को गोली मार दी.

मुरैना जिला पंचायत अध्यक्ष और भाजपा नेत्री गीता हर्षाना और उनके परिजनों पर आरोप है कि जिला पंचायत सदस्य जगदीश टैगौर का अपहरण कर उसके नाती को गोली मार दी.

  • Share this:
मध्य प्रदेश में मुरैना जिला पंचायत अध्यक्ष और भाजपा नेत्री गीता हर्षाना और उनके परिजनों पर आरोप है कि जिला पंचायत सदस्य जगदीश टैगौर का अपहरण कर उसके नाती को गोली मार दी.

दरअसल, मुरैना जिला पंचायत अध्यक्ष और भाजपा नेत्री गीता हर्षाना के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव के लिए राजनीति तेज होने से अध्यक्ष के परिजनों ने जिला पंचायत सदस्य जगदीश टैगौर के अपहरण की योजना बनाई और शनिवार रात उसके घर जा पहुंचे.

जिसके बाद फिल्मी अंदाज में आरोपियों ने जगदीश का अपहरण किया और गोलियां चलाई, जिसमें एक गोली युवक विनय को जा लगी. उसको इलाज के लिए ग्वालियर रेफर किया गया, जहाँ उसकी मौत हो गई.



सदस्य के परिजनों का कहना है कि वर्तमान अध्यक्ष और उनके परिजनों द्वारा अविश्वास प्रस्ताव लाने की वजह से लगातार दबाव बनाया जा रहा था.
राजनैतिक रंजिश के चलते हत्या के मामले में कोतवाली थाना पुलिस ने कुल नौ लोगों के नाम हत्या, अपहरण का मामला दर्ज कर लिया है. जिसमें मुख्य आरोपी जिला पंचायत की वर्तमान अध्यक्ष और भाजपा नेता गीता हर्षाना, पति इंदर हर्षाना, जेठ बीरेंद्र हर्षाना, देवर खन्ना हर्षाना, मंडले हर्षाना, बंटी हर्षाना को बनाया गया है.

हालाकि पुलिस ने अपहृत जगदीश टैगौर को राजिस्थान के मनिया इलाके से सकुशल मुक्त करा लिया है. और अभी किसी की गिरफ्तारी नही हुई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज