अपना शहर चुनें

States

MP में फिर लहराया कांग्रेस का परचम, 'राइट टू रिकॉल' में मारी बाजी

मध्य प्रदेश में कांग्रेस को चुनावी समर में एक और फतह हासिल हुई है. सूबे के मुरैना जिले के सबलगढ़ नगर पालिका की खाली कुर्सी और भरी कुर्सी के चुनाव में कांग्रेस की गीता चौधरी ने 2618 मतों से विजय हासिल कर अपना कब्जा बरकरार रखा है.
मध्य प्रदेश में कांग्रेस को चुनावी समर में एक और फतह हासिल हुई है. सूबे के मुरैना जिले के सबलगढ़ नगर पालिका की खाली कुर्सी और भरी कुर्सी के चुनाव में कांग्रेस की गीता चौधरी ने 2618 मतों से विजय हासिल कर अपना कब्जा बरकरार रखा है.

मध्य प्रदेश में कांग्रेस को चुनावी समर में एक और फतह हासिल हुई है. सूबे के मुरैना जिले के सबलगढ़ नगर पालिका की खाली कुर्सी और भरी कुर्सी के चुनाव में कांग्रेस की गीता चौधरी ने 2618 मतों से विजय हासिल कर अपना कब्जा बरकरार रखा है.

  • Share this:
मध्य प्रदेश में कांग्रेस को चुनावी समर में एक और फतह हासिल हुई है. सूबे के मुरैना जिले के सबलगढ़ नगर पालिका की कुर्सी के चुनाव में कांग्रेस की गीता चौधरी ने 2618 मतों से जीत हासिल कर अपना कब्जा बरकरार रखा है.

पार्षदों द्वारा अविश्वास प्रस्ताव लाने के बाद राज्य सरकार ने वर्तमान अध्यक्ष और कांग्रेस की महिला नेता गीता सुरेश चौधरी को वापस बुलाने के लिए 'राइट टू रिकॉल' के तहत 17 नवंबर को मतदान कराया था. सोमवार को हुई मतगणना के बाद मतदाताओं ने एक बार फिर कांग्रेस की गीता चौधरी के पक्ष में मतदान किया.

छह महीने पहले सबलगढ़ नगर पालिका की अध्यक्ष गीता सुरेश चौधरी के खिलाफ 14 पार्षदों ने अविश्वास प्रस्ताव पारित किया था. अविश्वास आने के बाद शासन ने चुनाव के खिलाफ स्थगन दे दिया था. लेकिन बाद में अदालत ने दोबारा से अध्यक्ष को रिकॉल करने के लिए अनुमति दी थी.



इसके बाद शुक्रवार को मतदान कराया गया था, जिसमें चुनाव परिणाम फिर से गीता के पक्ष में आया है. गीता चौधरी के बेटे दीपक चौधरी ने मतगणना के बाद जनता और कांग्रेस पार्टी के साथ ही सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया की जीत बताया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज