'धमकी' देने के कारण बंदूक का लाइसेंस गंवा सकते हैं चंबल के लोग
Morena News in Hindi

'धमकी' देने के कारण बंदूक का लाइसेंस गंवा सकते हैं चंबल के लोग
मुरैना जिले में 27,000 बंदूकों के लाइसेंस हैं. (सांकेतिक फोटो)

मुरैना जिले (Morena District) के करीब 106 बंदूकधारी अपने बिजली के बिलों का भुगतान नहीं करने और वसूली अधिकारियों को धमकी देने पर अपना लाइसेंस गंवा सकते हैं. इस जिले में 27,000 लोगों के पास बंदूकों के लाइसेंस हैं.

  • Share this:
मुरैना. मध्य प्रदेश के मुरैना जिले (Morena District) के लगभग 106 बंदूकधारी अपने बिजली के बिलों का भुगतान नहीं करने और वसूली अधिकारियों को धमकी देने पर अपनी बंदूक के लाइसेंस गंवा सकते हैं. बिजली कंपनी के महाप्रबंधक शिशिर गुप्ता (Shishir Gupta) ने बताया कि इन 106 डिफॉल्टरों पर बिजली कंपनी (Electricity Company) का एक करोड़ रुपए से अधिक का बकाया है, लेकिन जब उनसे वसूली के लिए अधिकारी जाता है तो वे बंदूक की धमकी देने लगते हैं.

वसूली अधिकारी ने कलेक्‍टर को लिखा पत्र
इन बकायादारों के पास वसूली अधिकारी द्वारा भुगतान का आग्रह करने पर इनके द्वारा दी जाने वाली धमकी भरे व्यवहार से परेशान होकर मुरैना जिला कलेक्टर को इनकी बंदूकों के लाइसेंस रद्द करने के लिये पत्र लिखा गया है. प्रदेश की बिजली कंपनी के महाप्रबंधक शिशिर गुप्ता ने कहा, ‘मध्य प्रदेश पावर कंपनी ने मुरैना जिला कलेक्टर को 106 लोगों की बंदूक के लाइसेंस रद्द करने के लिये पत्र लिखा है. कलेक्टर द्वारा इन लोगों को इस बारे में नोटिस जारी किया जा रहा है.’

शिशिर गुप्ता ने कहा कि जब भी बिजली कंपनी के वसूली अधिकारी इन लोगों से बकाया बिलों के भुगतान के लिए कहते हैं, ये लोग अपने हथियारों की धमकी देते हैं.




चंबल में इतने हैं लाइसेंस



सरकार द्वारा चंबल इलाके के इस जिले में 27,000 बंदूकों के लाइसेंस जारी किये गए हैं. आपको बता दें कि यह इलाका कभी डकैतों के लिये कुख्यात रहा है और इसी वजह से सरकार ने इतनी संख्‍या में लोगों को बंदूकों के लाइसेंस दे दिए, लेकिन अब कुछ लोग इनका इस्‍तेमाल वसूली अधिकारी को धमकाने के लिए कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें-

आजादVsअर्जुन: राजभवन पहुंचा प्रतिमा विवाद, चंद्रशेखर आजाद के रिश्‍तेदारों ने दी ये चेतावनी

पिता की डांट से नाराज होकर 10वीं की छात्रा ने कर ली खुदकुशी, SSP ने कही ये बात
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading