स्कूल ने लिया था 10वीं पास कराने का ठेका, फेल हो गए सभी छात्र

मध्य प्रदेश के मुरैना अंचल में नकल माफिया हमेशा से ही हावी रहा है. आज दसवीं और बारहवीं कक्षा के रिजल्ट के बाद पोरसा के एक निजी स्कूल लक्ष्मी बाई कान्वेंट स्कूल में छात्रों का गुस्सा स्कूल पर फूट पड़ा और आक्रोशित छात्रों ने स्कूल में तोड़फोड़ कर दी.

  • Share this:
मध्य प्रदेश के मुरैना अंचल में नकल माफिया हमेशा से ही हावी रहा है. शुक्रवार को दसवीं और बारहवीं कक्षा के रिजल्ट के बाद पोरसा के एक निजी स्कूल लक्ष्मी बाई कान्वेंट स्कूल में छात्रों का गुस्सा स्कूल पर फूट पड़ा और आक्रोशित छात्रों ने स्कूल में तोड़फोड़ कर दी.



कारण था कि छात्रों से स्कूल संचालक मीना सिंह राय ने दसवीं और बारहवीं कक्षा में पास कराने का ठेका लिया था, लेकिन रिजल्ट निकलने के बाद छात्रों को पता चला कि उनके साथ धोखा हुआ है.



वे सभी फेल हो गए हैं. इससे नाराज छात्रों ने स्कूल में तोड़फोड़ कर दी. छात्रों का कहना है कि पास कराने के बदले स्कूल ने उनसे मोटा पैसा लिया था.





छात्रों का गुस्सा देख स्कूल संचालक मौके से फरार हो गए. बाद में पहुंची पुलिस ने कुछ छात्रों को पकड़ा भी लिया, लेकिन पुलिस भी खुलकर कुछ नहीं बोल रही है.
खास बात यह है कि यह स्कूल बिना किसी मान्यता के संचालित है और शिक्षा विभाग सोया हुआ है.



आज कोई पहला मामला नहीं है अगर देखा जाये तो ऐसे कई स्कूल हैं जो बिना किसी मान्यता के शिक्षा विभाग की मिली भगत से संचालित होकर छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज