अपना शहर चुनें

States

मुरैना में कांग्रेस की किसान खाट महा पंचायत : किसानों को बंधुआ बना रही है सरकार-कमलनाथ

कमलनाथ ने यहां दिल्ली कूच की औपचारिक शुरुआत की.
कमलनाथ ने यहां दिल्ली कूच की औपचारिक शुरुआत की.

खाट पंचायत में दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन (Kisan andolan) के समर्थन में प्रस्ताव पास किया गया.पूर्व सीएम कमलनाथ (Kamalnath) ने ट्रैक्टर चला कर दिल्ली कूच की औपचारिक शुरुआत की.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 20, 2021, 4:29 PM IST
  • Share this:
मुरैना.मुरैना के देवरी में आज कांग्रेस (Congress) ने किसानों की खाट पंचायत बुलायी.पूर्व सीएम और PCC चीफ कमलनाथ (Kamalnath), पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह सहित प्रदेश के बड़े नेता खाट पंचायत में पहुंचे. कमलनाथ ने याद दिलाया कि कांग्रेस ने किसानों के लिए क्या कुछ किया लेकिन मोदी सरकार किसानों को बंधुआ मज़दूर बनाने पर आमादा है.

किसानों की खाट महा पंचायत में कमलनाथ ने कहा देश में 40 साल पहले अमेरिका से अनाज आयात होता था. किसानों की बदौलत अब हम विदेशों को अनाज निर्यात करत्ते हैं. कमलनाथ ने भाजपा की केंद्र और राज्य सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि इंदिरा गांधी ने अनाज व्यापार का राष्ट्रीयकरण शुरू किया, तब से समर्थन मूल्य शुरू हुआ. आज एमपी के 20 फीसदी किसानों को ही समर्थन मूल्य मिलता है. जबकि पंजाब में 95 फीसदी किसानों को समर्थन मूल्य मिलता है, कमलनाथ ने केंद्र के नए कृषि कानून को लेकर कहा कि केंद्र सरकार इस कानून से व्यापारियों को मंडी का स्टेटस देने की तैयारी कर रही है. जिससे समर्थन मूल्य बन्द हो जाएगा. किसान को बंधुआ बनाने के लिए ये कानून बनाया गया है. हमारी सरकार ने किसानों की क़र्ज़ माफी की शुरूआत की थी लेकिन भाजपा सरकारें किसानों के साथ छलावा कर रही हैं. कमलनाथ ने युवा नौजवान किसान से सच्चाई का साथ देने की अपील की.

नये कृषि कानून का विरोध
किसान महा पंचायत में कमलनाथ ने कहा नये कृषि कानून में व्यापारियों को खरीदी की सीमा से मुक्त करने का प्रावधान किसानों के लिए घातक होगा. हमने एमपी में सौदेबाज़ी की राजनीति नहीं की.हमारी सरकार ने किसानों की क़र्ज़ माफी की शुरूआत की.लेकिन प्रदेश में 15 साल के BJP शासन काल में उद्योग बन्द हो गए.



कमलनाथ ने की दिल्ली कूच की शुरुआत
खाट पंचायत में दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन के समर्थन में प्रस्ताव पास किया गया. इसमें कहा गया कि प्रदेश के किसान भी नये कृषि कानून के विरोध में उस किसान आंदोलन में शामिल होंगे. पूर्व सीएम कमलनाथ ने ट्रैक्टर चला कर दिल्ली कूच की औपचारिक शुरुआत की.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज