कोचिंग सेंटर के बाहर छेड़खानी, लेडी सिंघम ने लगवाई मजनुओं से उठक-बैठक

कोचिंग सेंटर्स और स्कूलों के बाहर आवारागर्दी करने वाले युवकों के खिलाफ पुलिस ने ऑपरेशन मजनू शुरू किया है. पुलिस ने इस धरपकड़ अभियान में करीब एक दर्जन से ज्यादा आवारा तत्वों को गिरफ्तार किया है.

  • Share this:
मध्यप्रदेश के मुरैना में कोचिंग सेंटर्स और स्कूलों के बाहर आवारागर्दी करने वाले युवकों के खिलाफ पुलिस ने ऑपरेशन मजनू शुरू किया है. पुलिस ने इस धरपकड़ अभियान में करीब एक दर्जन से ज्यादा आवारा तत्वों को गिरफ्तार किया है.



इसके अलावा कोचिंग पढ़ने आने वाले छात्रों को गले में अपनी कोचिंग का आई कार्ड टांगकर आने की हिदायत दी गई, ताकि छात्रों और आवारा युवकों में पहचाने में आसानी हो सके.



जीवाजीगंज थाना पुलिस के मुताबिक, इंस्पेक्टर भूमिका दुबे की अगुवाई में ऑपरेशन मजनू अभियान के तहत मनचलों को खदेड़ा गया. इनमें से कई नाबालिगों को उठक-बैठक लगवाई और मुंह ढंककर घूम रहे छात्र-छात्राओं के चेहरों की पहचान की गई. वहीं, इनमें शामिल एक दर्जन से अधिक मजनुओ को गिरफ्तार किया है.





इंस्पेक्टर भूमिका दुबे ने बताया कि, छात्राओं को समझाया गया कि यदि कोई भी उनसे छेडछाड़ या पीछा करे, तो उसकी सूचना तुरंत पुलिस को दें; ताकि दोषियों खिलाफ जल्द कार्रवाई की जा सके.
इसके अलावा 18 साल से कम उम्र के बच्चों को आगे से दुपहिया वाहन न लाने की हिदायत भी दी गई. सभी कोचिंग की छात्राओं को पुलिस अधिकारियों नंबर भी दिए गए.



दरसअल, पिछले कई दिनों से पुलिस को सूचना मिल रही थी कि शहर में कोचिंग सेंटर्स के आसपास कुछ युवक छात्राओं से छेड़छाड़ करते रहते हैं, जिसके बाद पुलिस ने इस तरह की घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए सभी कोचिंग संचालकों की एक बैठक भी आयोजित की .
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज