MP : रासुका आरोपी जीतू चौधरी के साथ कृषि मंत्री कमल पटेल की फोटो वायरल, उठा सियासी भूचाल
Indore News in Hindi

MP : रासुका आरोपी जीतू चौधरी के साथ कृषि मंत्री कमल पटेल की फोटो वायरल, उठा सियासी भूचाल
रासुका आरोपी के संग कृषि मंत्री की तस्वीर हुई वायरल.

कमलनाथ सरकार (Kamalnath Government) ने ऑपरेशन क्लीन के तहत जितेंद्र चौधरी उर्फ जीतू चौधरी पर रासुका (NSA) की कार्रवाई की थी, जिसके बाद से जीतू चौधरी (Jeetu Chaudhary) फरार चल रहा है.

  • Share this:

भोपाल. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के नए-नए कृषि मंत्री कमल पटेल (Agriculture Minister Kamal Patel) की कुछ तस्वीरें इंदौर के हिस्ट्रीशीटर जीतेंद्र चौधरी उर्फ जीतू चौधरी (Jeetu Chaudhary) के साथ सोशल मीडिया पर वायरल हुई हैं. इन तस्वीरों में कृषि मंत्री कमल पटेल फरार माफिया को मिठाई खिलाते नजर आ रहे हैं. इंदौर के परदेशीपुरा का रहने वाला जितेंद्र चौधरी उर्फ जीतू चौधरी पर कमलनाथ सरकार ने ऑपरेशन क्लीन (Operation Clean) के तहत रासुका की कार्रवाई की थी, जिसके बाद से जीतू चौधरी फरार चल रहा है. इंदौर (Indore) की हीरा नगर थाना पुलिस उसकी तलाश कर रही है.


आरोपी ने फेसबुक पर पोस्ट की फोटो
रासुका के आरोपी जीतेन्द्र चौधरी ने खुद अपनी फेसबुक वॉल पर कृषि मंत्री कमल पटेल के साथ खुशियां मनाते तस्वीरें पोस्ट की हैं. उसने ये तस्वीरें शनिवार को ही अपलोड की हैं, जिसमें वह मंत्री के साथ हंसी-मजाक करते हुए और उनसे मिठाई खाते हुए नजर आ रहा है. यह फोटो कमल पटेल के भोपाल के निवास की बताई जा रही हैं. फेसबुक वॉल पर जीतू चौधरी ने फोटो पोस्ट करते हुए लिखा है कि कैबिनेट मंत्री कमल पटेल से आत्मीय मुलाकात के अविस्मरणीय पल. जय भाजपा, जय शिवराज जय महाराज...


कांग्रेस का बीजेपी पर माफिया को संरक्षण देने का आरोप 
कृषि मंत्री के साथ तस्वीरें सामने आने के बाद कांग्रेस को बीजेपी पर हमला बोलने का मौका मिल गया है. कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता अमीनुल खान सूरी ने कहा है कि इन तस्वीरों से साफ हो गया है कि बीजेपी माफियाओं को संरक्षण देती है. शहर के नामी हिस्ट्रीशीटर बदमाश और रासुका का फरार आरोपी मंत्री के पास पहुंच गया और मंत्री उसे अपने हाथ से मिठाई खिला रहे हैं, लेकिन पुलिस उसे नहीं ढूंढ़ पा रही है. यह कानून व्यवस्था पर बडा प्रश्न चिह्न खडा कर रहा है. अब बीजेपी स्पष्ट करे कि उसका इस माफिया के साथ क्या संबध है.


सांसद ने बताया समाजसेवी
वहीं कांग्रेस के सवालों पर सांसद शंकर लालवानी ने जबाव देते हुए कहा कि कांग्रेस के पास कोई काम नहीं बचा है. वह सिर्फ वायरल फोटो ही देख रही है और बीजेपी पर अनर्गल आरोप लगा रही है. बीजेपी किसी माफिया के साथ नहीं, जो सेवा कार्य में लगे है, उनका साथ दे रही है. जीतेंद्र चौधरी भी एक समाजसेवी है, जिसे माफिया बताया जा रहा है.




कमलनाथ सरकार ने लगाई थी रासुका 
मध्य प्रदेश में कमलनाथ सरकार बनने के बाद, उन्‍होंने माफियाओं के खिलाफ ऑपरेशन क्लीन अभियान चलाया था, जिसमें भू माफियाओं, गुंडों-बदमाशों पर सीधे रासुका की कार्रवाई के निर्देश दिए थे. उसी समय, इंदौर के खातीपुरा इलाके के रहने वाला हिस्ट्रीशीटर जीतेन्द्र चौधरी पर भी रासुका के तहत कार्रवाई की गई थी. लेकिन, जीतू तब फरार हो गया था. इस बीच, बीजेपी की सरकार आ गई और बीजेपी नेताओं से नजदीकी के चलते उसे पुलिस गिरफ्तार नहीं कर पा रही है.



अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज