विनय सहस्त्रबुद्धे बोले- उप चुनाव में BJP की जीत हुई आसान, कांग्रेस से इस्तीफे दे रहे नेता
Bhopal News in Hindi

विनय सहस्त्रबुद्धे बोले- उप चुनाव में BJP की जीत हुई आसान, कांग्रेस से इस्तीफे दे रहे नेता
बीजेपी ने बड़ा बयान दिया है. (सांकेतिक तस्वीर)

मध्य प्रदेश भाजपा (BJP) प्रभारी विनय सहस्त्रबुद्धे (Vinay Sahasrabuddhe) ने कहा कि उप चुनाव जीतने की राह आसान हो रही है. प्रदेश में बदले माहौल के बाद से कांग्रेस छोड़कर भाजपा (BJP) में विधायकों के शामिल होने की होड़ लगी है.

  • Share this:
दिल्ली. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh)में  विधानसभा उपचुनाव (Assembly by-election) को लेकर सियासत शुरू हो गई है. आरोप-प्रत्यारोप के बीच बयानबाजी का दौर तेज हो गया है. पॉलिटिकल हलचल के बीच उपचुनाव को लेकर अब बीजेपी ने एक बड़ा बयान दे दिया है जिससे सूबे की सियासी गलियारों में चर्चाओं का दौर शुरू हो गया है. दरअसल, मध्य प्रदेश भाजपा प्रभारी विनय सहस्त्रबुद्धे (Vinay Sahasrabuddhe) ने कहा कि उप चुनाव जीतने की राह आसान हो रही है. प्रदेश में बदले माहौल के बाद से कांग्रेस छोड़कर भाजपा (BJP) में विधायकों के शामिल होने की होड़ लगी है. उन्होंने कहा कि राज्य के नेताओं को अब भविष्य भाजपा में नजर आ रहा है. इस वजह से ही उप चुनाव की चुनौती को भी स्वीकारते हुए विधायक इस्तीफ़ा देकर लगातार भाजपा में शामिल हो रहे हैं.

भाजपा का नहीं, एमपी का फायदा

विनय सहस्त्रबुद्धे ने कहा कि कांग्रेस छोड़कर आने वालों से भाजपा को फायदा की बात नहीं सोचते है, बल्कि मध्य प्रदेश को फायदा हो यह सोचते है. राज्य में मजबूत सरकार शिवराज सिंह के नेतृत्व में दे रहे है और सबका विकास के साथ सबका विश्वास भाजपा सरकार जीत रही है. वहीं, कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष संजय मसानी के धर्म के साथ है, अधर्म के नहीं, बयान पर कुछ भी कहने से इनकार करते हुए उन्होंने कहा कि यह छोटा विषय है, सथानीय नेता इस पर टिप्पणी करेंगे.



ये भी पढ़ें: PM मोदी का फेवरेट शिमला इंडियन कॉफी हाउस सील, दिल्ली से बिना पास लौटा स्टाफ, मामला दर्ज
इन कांग्रेस विधायकों ने छोड़ी पार्टी

यहां बताते दें कि नेपानगर से कांग्रेस की विधायक सुमित्रा देवी ने शुक्रवार को इस्तीफा देकर भाजपा की सदस्यता ली है. इससे पहले प्रद्युम्न सिंह लोधी ने भी विधायकी से इस्तीफा देकर भाजपा की सदस्यता ले चुके हैं. मार्च में कमलनाथ सरकार से इस्तीफा देकर 22 विधायक भाजपा में शामिल हुए थे. वहीं प्रदेश के कैबिनेट मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने कहा कि कांग्रेस विधायकों का पार्टी छोड़ने के पीछे एक बड़ा कारण विकास ना हो पाना है. कोई भी नेता हो या कार्यकर्ता वह विकास की ओर रुख करता है. नेपानगर की विधायक सुमित्रा देवी ने कांग्रेस से इस्तीफा दिया है क्योंकि कांग्रेस के कार्य में विकास की बात नहीं होती. इसलिए कांग्रेस पार्टी के लोग भाजपा में आ रहे हैं. भाजपा में आने के बाद विकास की लहर है. मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने कहा है कि अभी और तीन विधायक पाइपलाइन में हैं जो बीजेपी में आने को बेताब हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज