लाइव टीवी
Elec-widget

मप्र: मेडिकल लैब टेक्निशियन एसोसिएशन ने सीएम को सौंपा ज्ञापन, जांच सत्‍यापन का मांगा अधिकार

News18 Madhya Pradesh
Updated: November 26, 2019, 6:05 PM IST
मप्र: मेडिकल लैब टेक्निशियन एसोसिएशन ने सीएम को सौंपा ज्ञापन, जांच सत्‍यापन का मांगा अधिकार
मेडिकल लैब टेक्निशियन एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने बीते दिनों लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री तुलसीराम सिलावट से मुलाकात कर ज्ञापन दिया था. (फाइल फोटो)

मध्‍य प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस पार्टी ने अपने वचन पत्र में निजी क्षेत्र की पैथोलॉजिकल जांचों के प्रमाणीकरण को लैब टैक्नीशियन द्वारा सत्यापित करने का वचन दिया था.

  • Share this:
भोपाल (Bhopal) : मध्‍य प्रदेश मेडिकल लैब टेक्निशियन एसोसिएशन (Madhya Pradesh Medical Lab Technician Association) ने लैब टेक्निशियन (Lab Technician) को जांचों (Investigation) के सत्‍यापन का अधिकार (Right to Verification) दिए जाने की मांग की है. उन्‍होंने मंगलवार (Tuesday) को अपनी इस मांग से संबंधित एक ज्ञापन मध्‍य प्रदेश (Madhya Pradesh) के मुख्‍यमंत्री कमलनाथ (CM Kamalnath) को भी सौंपा है. उल्‍लेखनीय है कि अपनी इस मांग को लेकर एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने बीते दिनों सूबे के लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री तुलसीराम सिलावट (Tulsiram Silavat) से मुलाकात कर ज्ञापन दिया था.

मध्‍य प्रदेश मेडिकल लैब टेक्निशियन एसोसिएशन के उपाध्‍यक्ष ब्रजेश गोस्वामी के अनुसार, मध्‍य प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस पार्टी ने अपने वचन पत्र में निजी क्षेत्र की पैथोलॉजिकल जांचों के प्रमाणीकरण को लैब टैक्नीशियन द्वारा सत्यापित करने का वचन दिया था. उन्‍होंने बताया कि वचन पत्र को पूरा करने में सरकार का खर्च शून्‍य है. सरकार की इस पहल से मध्‍य प्रदेश के 80 से 85 हजार मेडिकल लैब टैक्‍नीशियन को स्‍वरोजगार दिला सकती है. इस कदम से प्रदेश के दूरदराज इलाकों में सामान्य पैथोलॉजिकल जांचों की सुविधा उपलब्ध होगी.

एसोसिएशन ने अपने ज्ञापन के जरिए, एसोसिएशन ने कांग्रेस को यह याद भी दिलाया है कि इससे पहले भी सरकार ने कई बार इस वादे को पूरा करने के लिए कहा था. एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने मुख्‍यमंत्री कमलनाथ को इस बात से भी अवगत कराया है कि इस संबंध में सूबे के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री को चार बार ज्ञापन दिया जा चुका है. लेकिन, अभी तक इस विषय पर कोई ठोस कार्रवाई नहीं हुई है. जिसके कारण मध्‍य प्रदेश के लैब टेक्निशियन में रोष व्‍याप्‍त है. बता दें कि पिछले साल हुए विधानसभा चुनावों में मध्यप्रदेश में कांग्रेस ने घोषणापत्र की जगह वचन पत्र जारी किया था.

अपने वचन पत्र में कांग्रेस ने कई वादों को वचन के रूप में दिया था. इसी में से वचन नंबर 19.47 नंबर पर लिखा था कि निजी क्षेत्र की पैथोलॉजी लैब में सामान्य जाचों के प्रमाणीकरण के लिए तकनीशियनों को सत्यापित करने के अधिकार देने के लिए नियमों में संशोधन करेंगे. इसी बात की मांग अब मेडिकल लैब टेक्निशियन एसोसिएशन ने की है. मुख्‍यमंत्री कमलनाथ को ज्ञापन देने वाले में एसोसिएशन के प्रदेश उपाध्यक्ष ब्रजेश गोस्वामी, भोपाल जिला अध्यक्ष अश्वनी कुशवाहा एवं इरफान खान शामिल थे.

यह भी पढ़ें:
स्वच्छता में नंबर 1 की दौड़ : कार में भी डस्टबिन रखना होगा वरना लगेगा फाइन
पीली चादर बिछ गयी है होशंगाबाद के इस गांव में, बड़े-बड़े अफसर आ रहे हैं देखने
Loading...

साली की शादी का कार्ड ना आने पर पत्नी की हत्या के बाद पति ने की थी आत्महत्या

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 26, 2019, 3:02 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...