लाइव टीवी

'प्रणाम पाठशाला' के जरिए एमपी के प्रायमरी स्कूलों की होगी बेहतर क्वालिटी

News18
Updated: January 21, 2016, 5:35 PM IST
'प्रणाम पाठशाला' के जरिए एमपी के प्रायमरी स्कूलों की होगी बेहतर क्वालिटी
राज्य शासन ने प्रदेश की प्रायमरी शालाओं की बेहतरी के लिये सभी जिला कलेक्टर को प्रणाम पाठशाला कार्यक्रम के संचालन के निर्देश दिए हैं.

राज्य शासन ने प्रदेश की प्रायमरी शालाओं की बेहतरी के लिये सभी जिला कलेक्टर को 'प्रणाम पाठशाला'' कार्यक्रम के संचालन के निर्देश दिए हैं.

  • News18
  • Last Updated: January 21, 2016, 5:35 PM IST
  • Share this:
राज्य शासन ने प्रदेश की प्रायमरी शालाओं की बेहतरी के लिये सभी जिला कलेक्टर को 'प्रणाम पाठशाला'' कार्यक्रम के संचालन के निर्देश दिए हैं.

शासन का मानना है कि व्यक्ति को अपनी प्राथमिक शाला से गहरा लगाव होता है. इससे उनके द्वारा अपनी प्राथमिक शाला के कल्याण के लिये कुछ कार्य करवाए जा सकते हैं.

हालांकि, प्राथमिक शिक्षा अभियान के लोक-व्यापीकरण में प्राथमिक शालाओं को मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करवायी गयी हैं. फिर भी शिक्षा की गुणवत्ता की दृष्टि से प्राथमिक शालाओं में और अधिक सुविधाओं की आवश्यकता बनी रहती है.

शाला प्रबंधन समिति स्थानीय स्रोतों से आवश्यकताओं की पूर्ति कर सकती है. अब समिति के सदस्य और संबंधित शिक्षक उस स्कूल में पढ़े हुए नागरिकों से वर्ष में एक बार स्कूल में आने के लिये अनुरोध करेंगे.

ऐसे व्यक्ति के स्कूल में पहुंचने पर उन्हें आवश्यकताओं के बारे में बताया जाएगा. साथ ही उन्हें स्वेच्छा से अपनी क्षमतानुसार सहयोग के लिए प्रेरित भी किया जाएगा.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नरसिंहपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 21, 2016, 5:35 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर