लाइव टीवी

खेल में भ्रष्टाचार, करोड़ों की खेल सामग्री कमरों में कैद

Ashish Jain | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: April 19, 2015, 12:11 AM IST
खेल में भ्रष्टाचार, करोड़ों की खेल सामग्री कमरों में कैद
मध्य प्रदेश के नरसिंहपुर जिले में खेल विभाग में चल रहे बड़े फर्जीवाड़े का खुलासा हुआ है. यहां जिला खेल अधिकारी पर करोड़ों की खेल सामग्री को वितरित नहीं कर बाजार में बेंचने का आरोप लगा है. इस शिकायत पर जिला प्रशासन ने छापामार कार्रवाई करते हुए खेल सामग्री को जब्त कर लिया है. यहां कई कमरों में खेल सामग्री धूल खा रही थी.

मध्य प्रदेश के नरसिंहपुर जिले में खेल विभाग में चल रहे बड़े फर्जीवाड़े का खुलासा हुआ है. यहां जिला खेल अधिकारी पर करोड़ों की खेल सामग्री को वितरित नहीं कर बाजार में बेंचने का आरोप लगा है. इस शिकायत पर जिला प्रशासन ने छापामार कार्रवाई करते हुए खेल सामग्री को जब्त कर लिया है. यहां कई कमरों में खेल सामग्री धूल खा रही थी.

  • Share this:
मध्य प्रदेश के नरसिंहपुर जिले में खेल विभाग में चल रहे बड़े फर्जीवाड़े का खुलासा हुआ है. यहां जिला खेल अधिकारी पर करोड़ों की खेल सामग्री को वितरित नहीं कर बाजार में बेंचने का आरोप लगा है. इस शिकायत पर जिला प्रशासन ने छापामार कार्रवाई करते हुए खेल सामग्री को जब्त कर लिया है. यहां कई कमरों में खेल सामग्री धूल खा रही थी.

नरसिंहपुर हाकी अकादमी के संस्थापक राजकुमार चौबे ने गंभीर आरोप लगाते हुए कलेक्टर को शिकायत की थी कि जिला खेल अधिकारी संतोष राजपूत वर्षों से इस जिले में जमे हुए हैं. वह बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार कर रहे हैं और पिछले साल जिले के 113 पायका केंद्रो में बंटने वाली सामग्री खेल सामग्री को वितरित नहीं कर इसे बाजार में बेचा जा रहा है.

ऐसे कई गंभीर आरोपों से भरी शिकायत के बाद नरसिंहपुर कलेक्टर ने डिप्टी कलेक्टर को मामले में जांच करने को कहा. डिप्टी कलेक्टर की टीम शिकायत के आधार पर खेल सामग्री की जांच करने के लिए वॉलीबॉल हॉस्टल पहुंची तो कई जिम मशीनें, वेट लिफ्टिंग मशीन, रोलर, वॉकर, किक्रेट की ढेर किट, हॉकी सामग्री के एवं वालीबॉल-फुटबाल के कई कार्टून समेत कई तरह की खेल सामग्री 5 कक्षों में धूल खाती मिली.

डिप्टी कलेक्टर ने औचक कार्रवाई में 5 कक्षों के ताला तोड़कर उक्त सामग्री बरामद की और वे दस्तावेज भी जब्त किए, जिसमें फर्जीबाड़े के लेखे-जोखे हैं. डिप्टी कलेक्टर ने कलेक्टर के निर्देश पर सामग्री से भरे पांचों कक्ष सील कर दिए. अब इस पूरे मामले की विस्तृत जांच की जाएगी.

आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जबलपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 18, 2015, 5:09 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर