लाइव टीवी

सरकारी तंत्र की बड़ी लापरवाही, सड़ गया करोड़ों रुपए का बारदाना

ETV MP/Chhattisgarh
Updated: May 18, 2016, 7:14 PM IST
सरकारी तंत्र की बड़ी लापरवाही, सड़ गया करोड़ों रुपए का बारदाना
जिले में सरकारी तंत्र की लापरवाही के चलते लगभग डेढ़ करोड़ की कीमत का बारदाना जिले की सोसायटियों में तीन साल से रखा हुआ सड़ गया. मगर करोड़ों रुपए के बारदाने (बोरियां) की सुध लेने वाला कोई नहीं है.

जिले में सरकारी तंत्र की लापरवाही के चलते लगभग डेढ़ करोड़ की कीमत का बारदाना जिले की सोसायटियों में तीन साल से रखा हुआ सड़ गया. मगर करोड़ों रुपए के बारदाने (बोरियां) की सुध लेने वाला कोई नहीं है.

  • Share this:
मध्यप्रदेश सरकार एक तरफ अपने खजाने की राशि गरीबों और जनहितैषी योजनाओं में लगा रही है, तो वहीं दूसरी तरफ सरकार के ही आलाधिकारी सरकार के खजाने को बर्बाद करने में लगे हुए हैं; जो कि साफ तौर पर नरसिंहपुर जिले में देखा जा सकता है.

दरअसल, जिले में सरकारी तंत्र की लापरवाही के चलते लगभग डेढ़ करोड़ की कीमत का बारदाना जिले की सोसायटियों में तीन साल से रखा हुआ सड़ गया. मगर करोड़ों रुपए के बारदाने (बोरियां) की सुध लेने वाला कोई नहीं है.

जानकारी के मुताबिक, हर वर्ष धान और गेंहू की खरीदी के लिए नागरिक आपूर्ति निगम और मार्केटिंग फेडरेशन से लाखों की संख्या में बारदाना आता है, जिसमें जला तो कहीं फटा हुआ सोसायटी केन्द्रों में पहुच जाता है.

इसे खरीदी केन्द्र वाले खराब बारदाने का पंचनामा बनाकर रख देते हैं और लगभग तीन साल से सभी सोसायटियों में यह बारदाना रखा हुआ है. सरकारी आंकड़ों के अनुसार संख्या 2 लाख 62 हजार 849 वारदाना खराब हो चुका है, जिसकी कीमत 1 करोड़ 18 लाख 29 हजार 205 रुपए आंकी जा रही है.

प्रदेश के खाद्य मंत्री विजय शाह का इस बारे में कहना था कि जल्द ही इस मामले की जांच करवाई जाएगी, जिसके बाद हल निकाला जाएगा.

जिले की सोसायटी के महाप्रबंधक आरएम मिश्रा का कहना है कि यदि हम कोई वारदाने की गठान खोल लेते हैं, तो उस बारदाने का क्लेम्प आपूर्ति निगम नहीं देता. वहीं दूसरी ओर हम बगैर खोले कैसे बता सकते हैं कि इस गठान में बारदाना खराब है.

इसी बिडंबना के चलते सोसायटियों और नागरिक आपूर्ति निगम दोनों के झमेले में करोड़ों बारदाना सड़ रहा है. वहीं, शासन-प्रशासन इसका कोई हल नहीं निकाल रहा.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नरसिंहपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 18, 2016, 7:14 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर