लाइव टीवी

10 साल से नशे की लड़ाई लड़ रहा है IPS अफसर, इतने लोगों को दिला चुका है 'आजादी'

Mustafa Hussain | News18 Madhya Pradesh
Updated: October 17, 2019, 12:45 PM IST
10 साल से नशे की लड़ाई लड़ रहा है IPS अफसर, इतने लोगों को दिला चुका है 'आजादी'
नशे का दुनिया में 500 बिलियन डॉलर का कारोबार है- वेद प्रकाश शर्मा

मध्‍य प्रदेश के पूर्व आईपीएस वेद प्रकाश शर्मा (IPS Ved Prakash Sharma) पूरे देश में नशा मुक्ति (Nasha Mukti) की मुहिम चला रहे हैं. उनका कहना है कि देश में 80 फीसदी अपराध नशे की वजह से होते हैं. जबकि दुनियाभर में नशे का कारोबार 500 बिलियन डॉलर का है.

  • Share this:
नीमच. एक पूर्व आईपीएस अफसर वेद प्रकाश शर्मा (IPS Ved Prakash Sharma) पूरे देश में नशे के खिलाफ मुहिम चला रहे हैं. इसमें खास बात यह है कि ये वो शख्शियत हैं, जिन्होंने देश में सबसे पहले कहा था योग से नशा मुक्ति (Nasha Mukti) हो सकती है. अब तक वे योग द्वारा 500 से अधिक लोगों को नशा मुक्त कर चुके हैं. उनका दावा है कि नशे का दुनिया में 500 बिलियन डॉलर का कारोबार है.

10 साल से लड़ रहे हैं नशे की लड़ाई
आईजी के पद से रिटायर हुए आईपीएस अफसर वेद प्रकाश शर्मा पिछले 10 वर्षों से मध्‍य प्रदेश (Madhya Pradesh) में नशे के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे हैं. वे अपने सेवाकाल के दौरान नीमच एसपी और रतलाम के डीआईजी भी रहे. इस दौरान उन्होंने देखा कि अफीम उत्पादक मालवा में खतरनाक नशे से लोग मौत के मुहाने पहुंच रहे हैं. इसी के बाद उन्होंने नशे से मुक्ति का पर लिया और एक दशक से अधिक समय से वे योग द्वारा नशा मुक्ति में लगे हैं.

नशा मुक्ति को लेकर शर्मा ने कही ये बात

नशा मुक्ति को लेकर नीमच आये वेद प्रकाश शर्मा ने ख़ास बातचीत में कहा कि योग ही ऐसा कारगर तरीका है जिससे नशा मुक्ति हो सकती है. मैंने यह अभियान चलाया हुआ है. इसके लिए मैंने पीएम नरेंद्र मोदी को पत्र भी लिखा था, जिसमें कहा था कि पूरे देश में योग से नशा मुक्ति के केंद्र स्थापित किये जाएं और मैं नि:शुल्क सेवा देने के लिए तैयार हूं.

साथ ही उन्‍होंने कहा कि दुनिया में 500 बिलियन डॉलर का कारोबार है नशे का, जिससे हमारा देश भी अछूता नहीं. आज पंजाब और हरियाणा जैसे प्रदेशों की हालत खराब है. उन्होंने यह भी कहा कि हमें उतनी ही अफीम उपजानी चाहिए जितनी दवाओं के लिए आवश्यक है. जबकि इसके विकल्प तलाशने चाहिए, क्‍योंकि मालवा मे लोग अफीम से ड्रग्स बनाने की विधि भी जानते हैं, जो खतरनाक है. जबकि आज सोशल मीडिया के कारण ड्रग्स युवाओं को आसानी से मिल जाता है.

पूर्व आईपीएस अफसर शर्मा ने कहा कि 80 प्रतिशत अपराध नशे की हालत में होते हैं. इस बात का एक सर्वे मैंने शहडोल आईजी रहते हुए जेल में करवाया था.
Loading...

ये भी पढ़ें-

क्‍या दिग्विजय सिंह का ये दावा बढ़ाएगा शिवराज की मुश्किलें?

दिग्विजय का बड़ा बयान, बोले- वीर सावरकर ने गांधी की हत्‍या का रचा था षड्यंत्र

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नीमच से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 17, 2019, 12:45 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...